सुप्रीम कोर्ट परिसर में ही हेड कॉन्स्टेबल ने खुद को मारी गोली, दिल्ली पुलिस कर रही छानबीन

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सोमवार की सुबह दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट में ही एक हेड कॉन्स्टेलबल आत्महत्या कर ली। उसने अपनी सर्विस पिस्टल से ही खुद को गोली मार ली। मृतक हेड कॉन्स्टेबल सुप्रीम कोर्ट में ही सुरक्षा में तैनात था। फिलहाल पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है कि आखिर यह कैसे हुआ? मृतक हेड कॉन्स्टेबल का नाम चंदर पाल बताया जा रहा है, जो सु्प्रीम कोर्ट की सुरक्षा टीम में अप्रैल 2014 से तैनात था। पुलिस को अब तक की जांच में कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला है, जिससे पता चल सके कि आखिर उसने आत्महत्या का कदम क्यों उठाया? पुलिस को आशंका है कि किसी पारिवारिक या निजी वजह के चलते चंदर पाल ने सुसाइड किया है।

suicide सुप्रीम कोर्ट परिसर में ही हेड कॉन्स्टेबल ने खुद को मारी गोली, दिल्ली पुलिस कर रही छानबीन
ये भी पढ़ें- दिल्‍ली: लॉकअप में संदिग्‍ध मौत, पुलिस ने लाश लगा दी ठिकाने, SHO सहित 5 सस्पेंड

दिल्ली पुलिस के डिप्टी कमिश्नर बीके सिंह ने कहा कि यह घटना सुबह करीब 8 बजे हुए है। घटना सुप्रीम कोर्ट के जी-गेट पर स्थिति बूथ में हुई है, जिसमें हेड कॉन्स्टेबल ने खुद को गोली मार ली। उनके अनुसार चंदर पाल ने अपनी सर्विस पिस्टल से खुद के सीने में गोली मार ली। उसे तुरंत ही पास के अस्पताल में इलाज के लिए ले जाया गया, लेकिन वहां पहुंचने पर जब डॉक्टरों ने निरीक्षण किया तो उन्होंने पाल को मृत घोषित कर दिया।
ये भी पढ़ें- अनुराग ठाकुर पर चला सुप्रीम कोर्ट का डंडा, बीसीसीआई के अध्यक्ष पद से छुट्टी 
पाल सुबह की शिफ्ट में ड्यूटी कर रहे थे। यह शिफ्ट सुबह 7 बजे से शुरू होकर दोपहर 1 बजे तक चलती है। पुलिस इस बात को भी संदेह की नजर से देख रही है कि आखिर चंदर पाल ने सुसाइड करने के लिए अपनी छाती पर गोली क्यों मारी। अमूमन आत्महत्या में खुद के सिर में गोली मारने की घटनाएं अधिक सामने आती हैं। इस मामले पर फिलहाल पुलिस की छानबीन जारी है। चंदर पाल के परिवार वालों को इसक घटना की जानकारी दे दी गई है। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि वह इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या पाल को कोई तनाव था, जिसके चलते उसने अपनी जान ली।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
delhi police head constable shot himself in the supreme court premises
Please Wait while comments are loading...