OMG! दिल्‍ली मेट्रो में 91% पॉकेटमार महिलाएं, जरा संभल कर रहिए

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। अगर आप दिल्‍ली मेट्रो में सफर कर रहे हैं और कोई खूबसूरत महिला आपसे सटकर खड़ी हो तो खुश होने की जगह आप एक बार अपनी जेब टोह लें क्‍योंकि मेट्रो में महिलाएं लोगों के जेब काट रही हैं। जी हां सीआईएसएफ की ओर से जारी किये गये आंकड़ों के मुताबिक इस साल दिल्‍ली मेट्रो में जितने जेबकतरे पकड़े गये उनमें 91 फीसदी महिलाएं थीं। प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक सीआईएसएफ ने इस साल कुल 497 लोगों को जेब काटने के मामले में पकड़ा।

दिल्‍ली मेट्रो में 91% पॉकेटमार महिलाएं,
  दिल्‍ली मेट्रो के ये 10 स्‍टेशन 1 जनवरी से हो जाएंगे कैशलेस

आप सुनकर हैरान हो जायेंगे कि इनमें 438 महिलाएं हैं। खास बात ये है कि जिन महिलाओं को गिरफ्तार किया गया उनमें से ज्‍यादातर महिलाएं अच्‍छे कपड़ों में होती हैं। उनके पास लैपटॉप और बैकपैक होता है और वे किसी भी आम यात्री की तरह लगती हैं। इनका पहनावा देखकर शक करना तो लगभग नामुमकिन है। उन्हें रंगे हाथों ही पकड़ा जा सकता है। सीआईएसएफ के एक अधिकारी ने बताया कि उनका कोई खास लुक नहीं होता।वे किसी भी आम और निर्दोष यात्री के रूप में होती हैं। लेकिन आंकड़े साबित करते हैं कि वे इतनी भी निर्दोष नहीं होतीं। बल्कि कुछ तो ब्रांडेड बिजनेस फॉर्मल्स कपड़ों में थीं। उनके पास काम करने का दिखावा करने के लिए कॉन्फ्रेंस बैग और लैपटॉप था। सूत्रों की मानें तो इनमें से ज्यादातर महिलाएं गैंग के रूप में काम करती हैं और भीड़-भाड़ के समय में ग्रुप बनाकर मेट्रो में चढ़ती हैं।

हाल ही में सीआईएसएफ ने ऐसी महिलाओं के एक गिरोह का पर्दाफाश किया था, जिसने दिल्ली मेट्रो में पति के साथ यात्रा कर रही भारतीय-अमेरिकी महिला के गहने और अन्य कीमती सामान लूट लिया था।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Women constitute over 91 per cent of pickpockets apprehended by the CISF in the Delhi Metro network this year, reveals data.
Please Wait while comments are loading...