सड़क हादसों में घायलों की करेंगे मदद तो दिल्‍ली सरकार देगी कैश ईनाम

Subscribe to Oneindia Hindi

नयी दिल्‍ली। दिल्ली में रहने वाले ''दिलवालों की दिल्ली'' कहलाकर फख्र महसूस करते थे। लेकिन बीती रात दिल्‍ली ने असंवेदनशीलता की जो तस्‍वीर पेश की उसके बाद वो किसी भी सूरत में दिलदार कहलाने लायक नहीं बची। सुभाष नगर में सड़क हादसे में घायल एक व्‍यक्ति की मदद करने की बजाए लोग तमाशबीन बने रहे। इतना ही नहीं सड़क पर तड़प रहे उस व्‍यक्‍ति का किसी ने मोबाइल ही चोरी कर लिया।एक्‍सिडेंट में घायलों की मदद करने वाले ऑटो चालकों को मिलेगा 2000 रुपये का इनाम

Delhi government to rewards people for helping accident victims

इस दर्दनाक करतूत पर दिल्‍ली सरकार ने दुख व्‍यक्‍त किया है और सड़क हादसों में घायलों की मदद के लिए एक पॉलिसी बनाने का एलान किया है। सरकार के मुताबिक इसी महीने इस नई पॉलिसी को कैबिनेट में लाया जाएगा।

इस पॉलिसी के तहत सड़क हादसों में घायलों की मदद करने वालों को प्रोत्‍साहित किया जाएगा और ईनाम के तौर पर कैश दिया जाएगा। दिल्‍ली के गृहमंत्री सत्‍येंद्र जैन ने लोगों से अपील की है कि वो घायलों की बिना डरे मदद करें।

क्‍या था पूरा मामला?

मतिबुल नाम का एक शख्स अपनी नाईट ड्यूटी खत्म करके सुभाष नगर से पैदल डीडीयू हॉस्पिटल की ओर अपने घर जा रहा था। इसी दौरान पीछे एक तेज रफ्तार ऑटो ने उसे कुचल दिया। वो सड़क पर गिर गया और तड़पने लगा।

इस दौरान ऑटो चालक उसके पास आया, देखा और फिर फरार हो गया। इस दौरान बहुत से लोग उसके पास से गुजरे लेकिन किसी ने भी मदद नहीं की। इंसानियत की सारी हदें तो उस वक्‍त पार हो गई जब एक आदमी रिक्‍शे से उतरकर उसका मोबाइल लेकर भाग गया। जबतक पुलिस मौके पर पहुंचती तबतक उसकी मौत हो चुकी थी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Delhi government to rewards for people who help take road accident victims immediately to hospital.
Please Wait while comments are loading...