दारुल उलूम का फतवा: गौमूत्र मिले पतंजलि के उत्पाद मुसलमानों के लिए नाजायज

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

सहारनपुर। एक बार फिर से विश्व की मशहूर इस्लामी तालीमी इदारे दारुल उलूम देवबंद ने बाबा रामदेव के खिलाफ मोर्चा खोला है। इस बार दारूल उलूम ने बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि के प्रोडक्ट के खिलाफ फतवा जारी किया है।

ऋषि कपूर ने बाबा रामदेव को क्यों कहा 'मैसी देव'?

उलूम का कहना है कि पतंजलि के प्रोडक्ट में गौ-मूत्र का प्रयोग किया जा रहा है,  जिसका प्रयोग करना इस्लाम में हराम है। दारुल उलूम के मुफ्तियों की खंडपीठ ने गौमूत्र मिले पतंजलि के उत्पाद को मुसलमानों के लिए नाजायज बताया है।

लालू के गाल पर बाबा रामदेव ने लगाई गोल्ड क्रीम तो चमक गये बिहारी बाबू

हालांकि फतवे में कहा गया है कि पतंजलि के जिन सामानों में गौ-मूत्र नहीं है, उनका प्रयोग इस्लामिक भाई-बहन कर सकते हैं लेकिन गौमूत्र मिलाए जाने वाले उत्पाद का इस्तेमाल मुसलमानों के लिए पूरी तरह नाजायज है।

टीवी विज्ञापनों के मामले में भी बाबा रामदेव बने नंबर 1 खिलाड़ी

लेकिन किन उत्पादों में गौ-मूत्र है या नहीं है, उसकी प्रमाणिकता कैसे साबित होगी इसलिए हम ये ही सलाह देते हैं कि पंतजलि के उत्पादों से लोग दूर रहें, यही उनके लिए बेहतर है।

बाबा रामदेव और ग्लैमरस शिल्पा ने साथ-साथ किया योगा, लोगों ने उड़ाया मजाक

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Darul Uloom Deoband has issued a fatwa against use of any product which has declared content of cow urine, describing it as Najayaz (unlawful) in Islam.
Please Wait while comments are loading...