नोटबंदी के 40 दिन बाद नरेंद्र मोदी सरकार के प्रति क्या है जनता है मूड, सर्वे में जानिए

Subscribe to Oneindia Hindi

दिल्ली। नोटबंदी के बाद एक तरफ जनता समस्याएं झेल रही है और इसको लेकर अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सरकार पर विपक्षियों का हमला तेज हो गया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी लगातार पीएम पर निशाना साध रहे हैं।

modi

भाजपा और मोदी सरकार के खिलाफ नोटबंदी पर बन रहे माहौल के बीच पार्टी के लिए राहत देने वाला सी वोटर का एक सर्वे आया है जिसमें पता चला है कि कैश संकट से परेशान अधिकांश जनता डिमोनेटाइजेशन के 40 दिन बाद भी इस कदम के समर्थन में खड़ी है।

Read Also: राहुल ने बताया मोदी ने कब-कब लिए पैसे, भाषण की दस बड़ी बातें

नोटबंदी पर मोदी सरकार के साथ है पब्लिक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी के एलान के समय कहा था कि 50 दिन तक देश में कैश संकट रहेगा लेकिन 8 नवंबर को लिए इस फैसले के 40 दिनों बाद भी जनता नकदी की कमी से अभी भी जूझ रही है।

सी वोटर ने जनता का मूड भांपने के लिए 24 राज्यों में 19 और 20 दिसंबर को एक सर्वे किया जिसमें यह पता चला है कि लोग भले कैश की कमी से परेशान है लेकिन उनमें से अधिकांश अभी भी इस कदम पर भाजपा और नरेंद्र मोदी के समर्थन में हैं।

राहुल गांधी के बयानों पर किए गए सर्वे का क्या नतीजा निकला?

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी लगातार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमले कर रही है। पिछले सप्ताह राहुल गांधी ने कहा था कि उनको संसद में बोलने नहीं दिया जा रहा वरना वे भूचाल ला देंगे। राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया।

राहुल गांधी के बयानों के असर को लेकर किए गए सर्वे का नतीजा कांग्रेस के लिए निराश करनेवाला है। 57.7 प्रतिशत लोगों ने कहा कि पीएम मोदी के खिलाफ राहुल गांधी के लगाए गए आरोप आधारहीन हैं। इन सभी लोगों ने कहा कि राहुल गांधी पर उनको भरोसा नहीं है।

पीएम मोदी की छवि को धक्का नहीं पहुंचा

इस सर्वे से पता चला है कि राहुल गांधी और कांग्रेस के प्रहारों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की छवि को न के बराबर धक्का पहुंचा है और नोटबंदी के मसले पर भाजपा अभी भी समर्थन के लिहाज से काफी फायदे में है। 24 राज्यों में किए गए सर्वे में पता चला कि हर जगह अधिकांश लोग नोटबंदी पर भाजपा और पीएम मोदी का समर्थन कर रहे हैं।

नोटबंदी की समस्या से जल्दी निजात पाना चाहती है जनता

सर्वे में यह भी पता चला है कि नोटबंदी के बाद हुए कैश संकट से जनता जल्दी छुटकारा पाना चाहती है। उनका मानना है कि नोटबंदी का प्रभाव अमीरों पर कम और गरीबों पर ज्यादा हुआ है। कैश की कमी से गांव के लोग बहुत ज्यादा प्रभावित हुए हैं।

Read Also: राहुल ने पीएम पर लगाया बड़ा आरोप, कहा- सहारा और बिड़ला ने दिए पैसे

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
In a CVoter survey, it has been found that even facing cash crunch after 40 days of demonetisation, public is in support of BJP and Prime Minister Narendra Modi.
Please Wait while comments are loading...