जब कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा- नहीं लगाएंगे मोदी के खिलाफ नारे

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कांग्रेस को उस समय शर्मिंदा होना पड़ा जब कर्नाटक स्थित बेलागवी में एक महिला ने पत्रकारों से कहा कि उन्हें बुधवार (23 नवंबर) को एक धरने का हिस्सा बनने के लिए पैसा दिया गया था।

धरना स्थल पर उस समय हंगामा होने लगा जब लोगों को यह पता चला कि यह धरना विमुद्रीकरण और मोदी सरकार के खिलाफ है।

इस विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष दिनेश गुंडु राव और महिला विंग की अध्यक्ष लक्ष्मी हेब्बलकर भी शामिल थे।

पैसा निकालने गई ट्रांसजेंडर से बैंक स्‍टाफ ने की बदतमीजी, मैनेजर से नहीं दिया मिलने

narendra modi

तब शुरू हुआ हंगामा

विरोध प्रदर्शन में सैकड़ो कांग्रेस कार्यकर्ता शामिल हुए थे लेकिन वहां के स्थानीय निवासियों ने हंगामा शुरू कर दिया। ये सभी लोग पास की झोपड़पट्टी से लाए गए थे। उन्होंने कांग्रेस पर गुमराह करने का आरोप भी लगाया।

सांसद के दामाद के पास मिला नाटकीय अंदाज में लापता हुआ 3.5 करोड़ रुपए, गिरफ्तार

एक महिला ने टीवी चैनल से कहा कि उन्होंने हम सभी को 100 रुपए देने का वादा किया था और कहा था कि वो हमें राशन कार्ड भी दिलाएंगे। जब हम वहां गए तो हमें इस बात का एहसास हुआ कि यह विरोध प्रदर्शन मोदी के खिलाफ है।

इन आरोपों से कांग्रेस ने दूरी बनाई है। कांग्रेस की महिला विंग की अध्यक्ष लक्ष्मी हेब्बलकर ने कहा कि मुझे इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि महिला किस चीज की बात कर रही थी। मैं इन लोगों को यहां नहीं लाई हूं। आप इस बारे में स्थानीय विधायक से बात कर सकती हैं।

इसके बाद वो सवालों का जवाब दिए बिना कार में बैठ कर चली गईं।

पीएम मोदी से सर्वे में 92 फीसदी उनसे सहमत

छत्तीसगढ़: 4.5 लाख के नए और पुराने नोटों के साथ युवक गिरफ्तार

गौरतलब है कि 8 नवंबर को राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1,000 रुपए के बंदी की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि इससे आतंकवाद और कालेधन पर लगाम लगेगी।

हालांकि कांग्रेस विमुद्रीकरण के फैसले का शुरू से विरोध कर रही है।

वहीं विमुद्रीकरण के मसले पर पीएम मोदी ने मोबाइल के ऐप के जरिए जनता की राय मांगी। इस सर्वेक्षण में 92% लोगों ने माना कि इस कदम से काले धन और भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी।

इस फीडबैक से उत्‍साहित प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कैबिनेट की बैठक में कहा कि इससे पता चलता है कि देश का मूड क्‍या है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Currency ban:Hired protestors rat congress out, refuse to shout Anti-Modi slogans
Please Wait while comments are loading...