किश्तवाड़: देशद्रोह के आरोप में 3 की गिरफ्तारी के बाद बवाल, लगा कर्फ्यू

Subscribe to Oneindia Hindi

कश्मीर किश्तवाड़ इलाके में देशद्रोह के आरोप में तीन की गिरफ्तारी के बाद बवाल हो गया। गिरफ्तारी के विरोध में स्थानीय लोगों ने बाहर निकलकर सुरक्षाबल के जवानों पर पथराव शुरू कर दिया। इलाके में भारी तनाव और बवाल को देखते हुए कर्फ्यू लगा दिया गया।

READ ALSO: उरी अटैक: हॉस्पिटल में घायल बीएसएफ जवान की मौत, अब तक 19 शहीद

kishtwar

रात डेढ़ बजे गिरफ्तारी, उसके बाद बवाल

देश विरोधी गतिविधियां करने के आरोप में मौलवी अब्दुल कय्यूम मट्टू, सैफुद्दीन बागवां और फिरदौस अहमद को पुलिस ने शनिवार रात डेढ़ बजे उन सबके घर जाकर एरेस्ट किया।

गिरफ्तारी के ठीक बाद स्थानीय लोग सड़कों पर उतर आए और सुरक्षाबलों पर भारी पथराव शुरू कर दिया।

भारी बवाल के बाद सुबह चार बजे से कर्फ्यू

लोगों ने इतना बवाल किया कि सुरक्षाबलों को उनको कंट्रोल करने के लिए लाठी चार्ज के साथ आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। इलाके में भारी तनाव को देखते हुए किश्तवाड़ और आसपास के इलाकों में सुबह चार बजे कर्फ्यू लगा दिया गया।

13 सितंबर को हुए प्रदर्शन के सिलसिले में गिरफ्तारी

13 सितंबर को ईद उल जुहा के दिन किश्तवाड़ में प्रदर्शन के दौरान देश विरोधी नारे लगाए गए। इस मामले में पुलिस ने कम से कम 18 लोगों पर केस दर्ज किया था। इसी सिलसिले में तीनों की गिरफ्तारी हुई।

पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत गिरफ्तारी

पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ पब्लिक सेफ्टी एक्ट के तहत केस दर्ज कर गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार होने वालों में अब्दुल कय्यूम मट्टू हुर्रियत का नेता और स्थानीय मस्जिद का इमाम है। इनके अलावे सैफुद्दीन किश्तवाड़ के मजलिस ए शूरा का सदस्य हैऔर फिरदौस स्थानीय हुर्रियत नेता है।

पुलिस एक अन्य आरोपी इमाम काजी मंजूरी को भी गिरफ्तार करने गई थी लेकिन वह पहले ही फरार हो गया।

READ ALSO: दुश्मन को चुनौती देने के लिए भारत-अमेरिका का युद्ध प्लान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Three arrests in Kishtwar area in charge of sedition sparked tension in the region. After that curfew imposed in Kishtwar.
Please Wait while comments are loading...