ईमानदारी की मिली सज़ा, ठेकेदारों ने कुल्हाड़ी से काट दिया अधिकारी का हाथ

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बेंगलुरू में दो ठेकदारों के मनरेगा संबंधित फर्जी बिलों को पास न करने की कीमत एक तकनीकी समन्वयक को अपना एक हाथ गंवाकर चुकानी पड़ी।

ईमानदारी की मिली सज़ा, ठेकेदारों ने कुल्हाड़ी से काट दिया अधिकारी का हाथ

16 वर्षीय किशोरी को जबरन शादी के लिए बेचा, 4 गिरफ्तार

कुल्हाड़ी से किया हमला

सोमवार को दो संदिग्धों (बाद में जिनकी पहचान केशव और मंजुनाथ के रूप में हुई) ने कुल्हाड़ी से 53 वर्षीय एच. आर. श्रीनिवास पर कुल्हाड़ी से हमला किया, जिससे कि उनका दायां हाथ लगभग पूरी तरह से कट गया। श्रीनिवास का बेंगलुरू के एक अस्पताल में उपचार चल रहा है।

चुकानी पड़ी ईमानदारी की कीमत

श्रीनिवास ने एक समाचार पत्र को बताया कि उन्हें ईमानदारी की कीमत चुकानी पड़ी है। श्रीनिवास एक ऐसी संस्था के लिए काम करते हैं जो कि कर्नाटक के तुमाकुरू जिले में नौकरी संबंधी ग्रामीण स्कीमों के क्रियान्वयन के लिए जानी जाती है।

शहाबुद्दीन के जेल से छूटने के बाद सीवान में है दहशत, जानें क्यों

मनरेगा प्रोजेक्ट में की गड़बड़ी

वह उसमें तकनीकी विभाग देखते हैं और प्रोजेक्ट्स की समीक्षा कर उन्हें अं​तिम रूप देते हैं। उन्होंने मनरेगा से जुड़े एक प्रोजेक्ट में पाया कि जो पैसा ठेकेदारों को दिया गया, उसका पूरी ईमानदारी से इस्तेमाल नहीं किया गया।

ईमानदारी की मिली सज़ा, ठेकेदारों ने कुल्हाड़ी से काट दिया अधिकारी का हाथ

ठेकेदारों ने की थी बेईमानी

जब श्रीनिवास कार्यस्थल का मुआयना करने गए तो पता लगा कि ठेकेदारों ने अपने काम में बेईमानी की है। वर्षा जल संचयन के लिए ठेकेदारों का गड्ढे बनाने थे। प्रत्येक गड्ढढे को बनाने में ठेकेदारों ने जो लागत दिखाई, वह थी 69 हजार रुपए। जबकि श्रीनिवास ने 42,000 रुपये प्रति गड्ढा निर्माण कीमत तय की।

देश की राजधानी से मजबूरी में पलायन कर रहे हैं लोग, जानिए क्या है प्रमुख वजह

आॅफिस में घुसकर दी धमकी

सोमवार दोपहर केशव नाम का एक ठेकेदार ने दफ्तर में आकर श्रीनिवास को कीमत घटाने के लिए धमकाया और कहा कि उन्हें इसके लिए गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। श्रीनिवास ने जब बेईमानी करने से इनकार कर दिया तो केशव ने उसे धमकी दी कि अगर उसने बदली हुई कीमत वाले बिल पर दस्तख्त किए तो वह उसका हाथ काट देगा। इसके बावजूद श्रीनिवास अपनी ईमानदारी पर टिके रहे।

हमलावरों ने किया पीछा

श्रीनिवास के मुताबिक, वह जैसे ही काम के बाद अपने दुपहिया वाहन पर घर जा रहे थे, तभी रास्ते में केशव और मंजुनाथ उनका पीछा कर रहे थे। बीच रास्ते में ही उनमें से किसी एक ने कुल्हाड़ी निकाली और उनपर हमला कर दिया। हालांकि, उनका पहला निशाना चूक गया।

स्थानीय लोगों ने की मदद

श्रीनिवास ने जैसे ही गाड़ी धीरे की, हमलावरों ने दाएं हाथ पर अटैक कर दिया। इससे पहले कि हमलावर दूसरा प्रहार कर पाते, श्रीनिवास ने यू-टर्न लिया और तेज रफ्तार में एक चाय की दुकान पर जा पहुंचे। वहां मौजूद लोगों ने श्रीनिवास की मदद के लिए तुरंत एंबुलेंस का बंदोबस्त किया।

पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज कर ली है लेकिन दोनों आरोपी ठेकेदार अभी भी पकड़ से दूर हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
two contractors in banglore chop man hand for mnrega bills.
Please Wait while comments are loading...