फर्जी सर्जिकल स्ट्राइक बयान पर कांग्रेस नेता संजय निरुपम को गैंगस्टर ने दी धमकी

Subscribe to Oneindia Hindi

मुंबई। भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक को फर्जी बताने वाले कांग्रेस नेता संजय निरुपम को एक गैंगस्टर ने धमकी देकर सार्वजनिक माफी मांगने को कहा है।

संजय निरुपम ने ट्वीट कर सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाया था और इसको राजनीतिक लाभ के लिए भारतीय जनता पार्टी द्वारा फैलाया गया झूठ करार दिया था।

Read Also:खून की दलाली के बयान से कांग्रेस को हो सकते हैं पांच नुकसान

sanjay nirupam

संजय निरुपम ने किया दावा

मुंबई कांग्रेस के प्रेसिडेंट संजय निरुपम ने कहा है कि गैंगस्टर रवि पुजारी ने उनको फोन पर धमकाया है और सर्जिकल स्ट्राइक को फर्जी बताने पर सार्वजनिक माफी मांगने को कहा है।

थाने में निरुपम ने दर्ज कराई शिकायत

इस मामले में संजय निरुपम ने वर्सोवा थाने में शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने कहा है कि 5 अक्टूबर के दिन में लगभग सवा 11 बजे उनके घर के लैंडलाइन पर विदेशी नंबर से रवि पुजारी का कॉल आया।

रवि पुजारी ने निरुपम को धमकाया

संजय निरुपम का कहना है कि रवि पुजारी ने घर की लैंडलाइन पर फोन कर उनको और उनके परिवार को धमकाते हुए कहा है कि अगर वह सर्जिकल स्ट्राइक वाले बयान पर सार्वजनिक माफी नहीं मांगते हैं तो अंजाम बुरा होगा।

भाजपा पर निरुपम ने लगाया आरोप

कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने गैंगस्टर से धमकी दिलाने का आरोप भाजपा पर लगाया। उन्होंने कहा, 'विरोधी दल के नेताओं को क्या गुंडों से धमकी दिलवाई जाएगी? सर्जिकल स्ट्राइक पहले भी हुए हैं। हम इसके सबूत क्यों नहीं मांगें? पाकिस्तान हमारे खिलाफ मुहिम चला रहा है तो सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत देने चाहिए।'

क्या था सर्जिकल स्ट्राइक पर संजय निरुपम का बयान?

संजय निरुपम ने ट्वीट कर भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक को फर्जी बताया था। उन्होंने कहा था कि हर भारतीय पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक चाहता है लेकिन वह फर्जी सर्जिकल स्ट्राइक नहीं जिसे भाजपा ने राजनीतिक फायदा उठाने के लिए गढ़ा है।

Read Also:कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने सेना के सर्जिकल स्ट्राइक को बताया फर्जी

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Congress Party leader Sanjay Nirupam get threat call from a gangster after he raises doubt over surgical strike by Indian Army.
Please Wait while comments are loading...