कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी पर आयकर विभाग ने लगाया 57 करोड़ जुर्माना

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कांग्रेस के दिग्गज नेता और वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी आयकर विभाग के घेरे में फंसे हैं। सिंघवी पर आयकर विभाग के सेटलमेंट कमीशन ने 57 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है।

income tax

सिंघवी पर आरोप है कि वे अपने ऑफिस में खर्च की गई रकम से संबंधित दस्तावेज आयकर विभाग को उपलब्ध कराने में असफल रहे। इसी को लेकर आयकर विभाग ने उनके ऊपर यह कार्रवाई की है।

हालांकि राजस्थान हाईकोर्ट ने आयकर विभाग के इस आदेश पर स्टे लगा दिया है।

बार-बार बैंक जाने वाले ध्यान दें, सरकार लगाएगी उंगली पर स्याही

आयकर विभाग के मुताबिक अभिषेक मनु सिंघवी ने अपनी पिछले तीन साल की आय 91.95 करोड़ रुपए कम दिखाई है।

दरअसल पूरा मामला सिंघवी के साल 2012 के इनकम टैक्स की देनदारी से जुड़ा हुआ है। सिंघवी ने आयकर विभाग को बताया कि उन्होंने 3 साल में अपने स्टाफ के लिए 5 करोड़ रुपए के लैपटॉप खरीदे हैं।

सिंघवी लैपटॉप की इस खरीद पर इनकम टैक्स में 30 प्रतिशत की छूट मांग रहे थे। सिंघवी ने आयकर विभाग को बताया कि दिसंबर 2012 में उनकी आय से जुड़े दस्तावेजों को दीमक खा गई।

आम इंसान की तरह नोट बदलवाने बैंक पहुंची पीएम मोदी की मां, बदलवाएं 4500 रुपए

सिंघवी ने बताया कि इसीलिए वे अपनी आय से संबंधित दस्तावेज जमा नहीं कर पाए। आयकर विभाग ने सिंघवी की इस दलील को अस्वीकार करते हुए उनपर 56 करोड़ 67 लाख रुपए का जुर्माना लगा दिया।

वहीं, सिंघवी ने आयकर विभाग की इस कार्रवाई को राजनीति से प्रेरित बताया है। राजस्थान हाईकोर्ट ने आयकर विभाग के इस आदेश पर स्टे लगा दिया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Income Tax Department imposed rs 57 crore fine at Congress leader abhishek manu singhvi.
Please Wait while comments are loading...