गोवा में मनोहर पर्रिकर ने जीता विश्वास मत, मिले 22 वोट

गोवा में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार को सदन में बहुमत साबित कर दिया। मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व वाली सरकार को 22 मत मिले।

Subscribe to Oneindia Hindi

पणजी। गोवा में आज मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी की परीक्षा का दिन था। यहां आज सरकार को विश्वास मत साबित करना था, जिसके लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया था।

पर्रिकर ने यह परीक्षा पास कर ली है। बता दें कि बीते 14 मार्च को मनोहर पर्रिकर के साथ साथ 7 अन्य विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली थी। जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने 16 तारीख को फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया था।इसके बाद गुरुवार को विश्वास मत में भाजपा को 22 मत मिले।

गोवा में मनोहर पर्रिकर ने जीता विश्वास मत, मिले 22 वोट

पर्रिकर के विरोध में 16 वोट पड़े और 1 विधायक अनुपस्थित रहा। विश्वास मत जीतने के बाद पर्रिकर ने कहा कि हमने भारत की जनता के सामने पहले साबित कर दिया था कि हमारे पास 23 विधायकों का समर्थन है और अब हमने इसे सदन में भी साबित कर दिया। पर्रिकर ने कहा कि दिग्विजय सिंह का दावा था कि उनके पास संख्या बल है। शुरुआत से ही उनके पास संख्या बल नहीं था।

दिग्विजय के दावे के एक प्रचार बताते हुए पर्रिकर ने कहा कि क्योंकि उनके महासचिव के पद से इस्तीफा देने की बात कही जा रही है। डिप्टी सीएम की जरूरत से जुड़े सवाल पर पर्रिकर ने कहा कि यह गठबंधन की सरकार है औरर इस संबंध में गठबंधन फैसला लेगा। पर्रिकर ने कहा कि हर कोई खुद से आया और वोट किया। कोई किसी होटल में नहीं रुका था।

दूसरी ओर सूत्रों के अनुसार कांग्रेस के 6 विधायक पार्टी छोड़ सकते हैं। सूत्र बताया कि विधायकों की नाराजगी कांग्रेस नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से है। वहीं कांग्रेस के ही विधायक विश्वजीत राणे ने कहा कि मैं कांग्रेस पार्टी के साथ हूं। मैं कांग्रेस को वोट करने जा रहा हूं।

गौरतलब है कि 40 विधानसभा सीटों वाली गोवा विधानसभा में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरी, उसके 17 विधायक जीत कर आए। वहीं बीजेपी ने 13 विधानसभा सीटों पर जीत हासिल की। कांग्रेस पार्टी को उम्मीद थी कि राज्यपाल की ओर से उन्हें सरकार बनाने का मौका दिया जाएगा, हालांकि इससे पहले ही बीजेपी की ओर से सरकार बनाने का दावा किया गया।

ये भी पढ़ें: कैबिनेट में हो सकता है बदलाव, सुषमा को हटाए जाने की अटकलें

कांग्रेस की ओर से मामले को सुप्रीम कोर्ट ले जाया गया, हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने भी मनोहर पर्रिकर को मुख्यमंत्री पद की शपथ को लेकर कोई रोक नहीं लगाई। हालांकि 16 मार्च को मनोहर पर्रिकर सरकार को बहुमत साबित करना होगा। फिलहाल सीटों का गणित देखें तो आंकड़ें बीजेपी के पक्ष में ही नजर आ रहे हैं।

पार्टी ने 8 विधायकों के समर्थन का दावा किया है। इनमें से 7 विधायकों को पार्टी ने शपथ भी दिला दी है। इस तरह से पर्रिकर सरकार को बहुमत मिलने के आसार साफ नजर आ रहे हैं।

ये भी पढ़े: 'अदालत जाने से पहले अस्पताल जाएं मायावती, कराएं अच्छा इलाज'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP led Govt in Goa headed by CM Parrikar,to face floor test today
Please Wait while comments are loading...