डोकलाम में दुश्मनी और हिंद महासागर में भारत से दोस्ती करना चाहता है चीन

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। डोकलाम में भारत और चीन के बीच पिछले दो महीनों से तनाव चल रहा है, दोनों देश की सेना आमने सामने है। इसी बीच चीन ने कहा है कि वो हिंद महासागर में भारत से मित्रता चाहता है। चीनी नौसेना ने शुक्रवार को भारतीय मीडिया को अपना वॉरशिप युलिन दिखाया साथ ही वहां तैनात हथियारों की जानकारी दी।

डोकलाम में दुश्मनी और हिंद महासागर में भारत से दोस्ती करना चाहता है चीन
India China face off : America says India and China to talk on the issue of Doklam | वनइंडिया हिंदी

ऐसा पहली बार हुआ है जब चीनी नौसेना ने भारतीय मीडिया को बुलाया हो और अपने हथियारों की जानकारी दी हो। पीपुल्स लिबरेशन आर्मी नेवी (पीएलएएन) के अधिकारियों ने तटीय शहर झानजियांग में अपने कूटनीतिक दक्षिण सागर के बेड़े (एसएसएफ) अड्डे पर पहली बार भारतीय पत्रकारों के एक समूह से बात करते हुए कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए हिंद महासागर एक साझा स्थान है। चीन के एसएसएफ के डिप्टी चीफ ऑफ जनरल ऑफिस कैप्टन लियांग तियानजुन ने कहा कि चीन और भारत हिंद महासागर की सुरक्षा में संयुक्त योगदान दे सकते हैं।

उनकी यह टिप्पणी तब आई है जब चीनी नौसेना ने अपनी वैश्विक पहुंच बढ़ाने के लिए बड़े स्तर पर विस्तार की योजना शुरू की है। लियांग ने हिंद महासागर में चीन के युद्धपोतों और पनडुब्बियों की बढ़ती गतिविधियों पर भी स्पष्टीकरण दिया। चीन ने हिंद महासागर में होर्न ऑफ अफ्रीका के जिबूती में पहली बार नौसैन्य अड्डा स्थापित किया है।

विदेशी समुद्र क्षेत्र में चीन के पहले नौसैन्य अड्डे का बचाव करते हुए उन्होंने कहा कि ये साजोसामान का केंद्र बनेगा और इससे क्षेत्र में समुद्री डकैती रोकने, संयुक्त राष्ट्र शांति रक्षा अभियान चलाने और मानवीय राहत पहुंचाने वाले अभियानों को सहयोग मिलेगा।

उन्होंने कहा कि, जिबूती अड्डा चीन के नौसैनिकों के लिए आराम करने का स्थान भी बनेगा। लेकिन विश्लेषकों का मानना है कि चीन के बढ़ते आर्थिक और राजनीतिक दबदबे के बीच सैन्य अड्डा बनाना वैश्विक पहुंच बढ़ाने की पीएलएएन की महत्वाकांक्षा का हिस्सा है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Chinese navy eyes Indian Ocean as part of PLA's plan to extend its reach
Please Wait while comments are loading...