कश्मीर घाटी में पहली बार प्रदर्शनकारियों ने लहराए चीन के झंडे

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

बारामुला। ब्रिक्स सम्मेलन के लिए चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के गोवा आने के बाद उसी दिन शाम को बारामुला में पहली बार चीन के झंडे लहराए गए। जुम्मे की नवाज के बाद बारामुला की गलियों में कुछ प्रदर्शनकारियों ने चीन और पाकिस्तान के झंडे लहराए।

china

आपको बता दें कि बुरहान वानी की मौत के बाद भड़की हिंसा के चलते प्रदर्शनकारी पाकिस्तान के झंडे तो अक्सर लहराते थे, लेकिन यह पहली बार है जब घाटी में चीन के झंडे लहराए गए हैं।

पाकिस्तान की सरकार नहीं है ''शरीफ'', लोकतंत्र की जगह तानाशाही का वर्चस्व: मुख्य न्यायाधीश

यह घटना जम्मू-कश्मीर के बारामुला के पुराने शहर में स्थित ईदगाह के पास हुई है। बारामुला के एक निवासी ने बताया कि चीन के झंडे लहराने वाले लोगों ने अपने चेहरे पर मास्क पहन रखा था।

वहां मौजूद लोगों ने बताया कि प्रदर्शनकारी नारे भी लगा रहे थे और उन लोगों के हाथ में जो झंडे थे उनमें से एक पर चीन से मदद मांगे जाने का नारा लिखा हुआ था। लोगों के मुताबिक प्रदर्शनकारियों का संख्या 4-5 थी।

6 वर्षीय बेटी का रेप कराने को इंटरनेट पर विज्ञापन देने वाली मां को 26 साल की सजा

जब प्रदर्शनिकारियों ने उस समय ड्यूटी पर तैनात एक पुलिसवाले पर पत्थरों से हमला शुरू कर दिया तो उन्हें भगाने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Chinese flags waved in Kashmir Valley for the first time
Please Wait while comments are loading...