चिदंबरम बोले, मैं होता वित्त मंत्री तो नोटबंदी पर दे देता इस्तीफा

चिदंबरम ने नोटबंदी के फैसले पर सवाल भी खड़ा किया और कहा कि अगर आप करीब 45 करोड़ लोगों की आजीविका छीनते हैं तो क्या यह गलत नहीं है?

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने रविवार को कहा है कि अगर वह वित्त मंत्री होते तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को नोटबंदी न करने की सलाह देते। उन्होंने कहा कि ऐसी सलाह पर उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया होता।

chidambaram

विपक्ष ने किया है भारत बंद का ऐलान, जानिए इसकी 10 खास बातें

यह बात उन्होंने दिल्ली लिटरेचर फेस्टिवल में उस सवाल के जवाब में कही, जब उनसे पूछा गया कि अगर वे अरुण जेटली की जगह वित्त मंत्री होते तो नोटबंदी के इस फैसले पर क्या करते।

उन्होंने कहा कि यह नोटबंदी नहीं है, बल्कि नोटबदली है। यह बात उन्होंने कार्यक्रम में 'मोदी सरकार: विपक्ष की भूमिका' विषय पर बोलते हुए कही। इस विषय पर चर्चा के दूसरो वक्ता जेडीयू सांसद पवन वर्मा थे, जबकि इस कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई ने किया।

विमुद्रीकरण पर RBI गवर्नर ने तोड़ी चुप्पी, कहा-हालात पर है नजर

चिदंबरम ने नोटबंदी के फैसले पर सवाल भी खड़ा किया और कहा कि अगर आप करीब 45 करोड़ लोगों की आजीविका छीनते हैं तो क्या यह गलत नहीं है? उन्होंने कहा कि अगर सरकार का फैसला लोगों से भीख मंगवाने और कर्ज लेने पर मजबूर करता है तो यह बिल्कुल गलत है।

वहीं जब चिदंबरम से पूछा गया कि सरकार और विपक्ष के बीच भरोसे की कमी है? तो उन्होंने कहा- मैं सोचता हूं आप इसे बढ़ा रहे हैं। वे बोले सरकार और विपक्ष के बीच मतभेद जरूर हैं, लेकिन दोनों एक दूसरे से अलग नहीं हैं।

नोटबंदी के बीच स्मृति इरानी की दरियादिली सोशल मीडिया पर वायरल

वहीं दूसरी ओर जेडीयू के सांसद पवन वर्मा ने नोटबंदी को लेकर ससंद में विपक्ष द्वारा लगातार हंगामा करके संसद ठप करने को लेकर ऐतराज जताया है। वे बोले- नोटबंदी पर विपक्ष की रणनीति भ्रमित करने वाली है।

वे बोले कि एक भी दिन ऐसा नहीं रहा जब विपक्ष ने हंगामा करके संसद की कार्रवाई को स्थगित करने पर मजबूर न कर दिया हो। उन्होंने कहा कि विपक्ष को अपनी बात ढंग से रखनी चाहिए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
chidambaram said if i were finance minister i would have given resignation on demonetisation
Please Wait while comments are loading...