बदल रहा है इंडिया, बिजली से रौशन हो रहा है देश

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। केंद्र में मोदी सरकार आने के बाद घर-घर बिजली पहुंचाने की दिशा में तेजी से काम हुआ है। बिजली से पूरा देश रोशन हो रहा है। देश अपना अपना 70 वां स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहा है। बहुत कम ही ऐसे गांव बचे हैं जहां बिजली नहीं पहुंच पाई है। इसी बीच केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि देश के सभी घरों में 15 अगस्त 2022 से पहले बिजली पहुंच जाएगी वहीं मई 2018 तक देश के सभी गांवों में बिजली पहुंचा दिया जाएगा।

 बदल रहा है इंडिया, पूरा देश बिजली हो रहा है रोशन

ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल के मुताबिक केंद्र सरकार ने जो डेडलाइन तय किया था उसको प्राप्त कर रही है। अगस्त 2017 तक 18,452 गांवों तक बिजली पहुंचाई गई है। जो तय किए गए टारगेट का 70 प्रतिशत है।आपको बता दें कि केंद्र सरकार गांव- गांव बिजली पहुंचाने की दिशा में तेजी से काम कर रही है। एक रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश में अब सिर्फ छह गांव ऐसे बचे हैं, जिन तक बिजली नहीं पहुंच पाई है, जबकि कुछ समय पहले तक यह संख्या 1,500 से भी ज्यादा थी। इसके अलावा बिहार में 319 गांव ऐसे हैं जहां बिजली पहुंचाने का काम बाकी है।केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल के मुताबिक ग्रामीण विद्युतीकरण मामले में बिहार तीव्र गति से आगे बढने वाले राज्यों में से एक है। देश में अभी 3997 गांवों में बिजली नहीं पहुंची है। एक मई 2018 तक पूरे देश के गांवों में बिजली पहुंच जाएगी और गांव-गांव रोशन होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के तहत देश के सभी गांवों में 1000 दिन के अंदर बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। देश में 5,97,464 गांव में से 5,93,601 गांवों में (99.3%) बिजली पहुंचा दी गई है। 1 मई, 2018 से पहले बाकी बचे गांवों को भी रौशन करने का काम तेजी से चल रहा है। काम की गति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उत्तर प्रदेश जैसे विशाल राज्य में 97,813 गांवों में से अब मात्र 6 गांव ही बचे हैं जहां बिजली पहुंचाने का काम आखिरी चरण में है।

नासा ने एक तस्वीर जारी की है। जिसमें रात के वक्त भारत चमकता हुआ दिखाई दे रहा है। जबकि बाकी दुनिया में अंधेरा छाया हुआ है। इस तस्वीर को केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कुछ दिनों पहले दिखाया था और बताया कि पूरे देश में कुछ ही गांव ऐसे हैं, जहां बिजली नहीं पहुंच पा रही है सरकार के इस तस्वीर के साथ-साथ देश के ग्रामीण इलाकों में बिजली की हालत पर भी रिपोर्ट पेश की थी। सरकार के मुताबिक त्रिपुरा और हिमाचल प्रदेश ऐसे राज्य हैं, जिनमें 100 फीसदी गांवों में बिजली पहुंचाई जा चुकी है। उत्तर प्रदेश में सिर्फ 6 गांव ऐसे हैं, जहां बिजली नहीं है, बाकी सभी गांवों में बिजली पहुंच गई है। जबकि बिहार के 319 गांवों में बिजली पहुंचाना बाकी है।

पीयूष गोयल ने लोकसभा में प्रश्नकाल के दौरान जवाब देते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने 15 अगस्त 2022 तक देश सभी घरों को रोशन करने और मई 2018 तक देश के सभी गांवों में बिजली पहुंचाने का डेडलाइन तय किया है जिसको समय रहते पूरा कर लिया जाएगा। पीयूष गोयल ने अपने जबाव में केंद्र सरकार द्वारा ऊर्जा के क्षेत्र में किए गए कार्यों को भी गिनाया था।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Changing India: Racing towards 100 per cent electrification
Please Wait while comments are loading...