केंद्र सरकार, न्यायपालिका के काम को रोकने का कर रही प्रयास: सुप्रीम कोर्ट

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार की खिंचाई करते हुए कहा कि न्यायपालिका के काम को रोकने की कोशिश सरकार कर रही हैं। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायधीश टी एस ठाकुर ने जानना चाहा कि आखिर हाईकोर्ट में जजों की नियुक्ति को सरकार क्यों रोक रही है।

दिल्ली में चल सकेंगी 2000cc से अधिक की गाड़ियां, बस एक है शर्त

 

supreme oourt

मुख्य न्यायधीश जस्टिस टी एस ठाकुर ने कहा कि कोलोजियम ने न्यायधीशों के ट्रांसफर और नियुक्ति को लेकर 78 बार सरकार को लिखा है। पिछले आठ महीनों से इस मामले को अटका कर रखा गया है। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से जानना चाहा कि क्या आप न्यायपालिका का काम रोक देना चाहते हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार से पूछा, क्या यहां पंचायत चल रही है

न्यायधीश टी एस ठाकुर ने कहा कि हाईकोर्ट में जजों के खाली पदों की संख्या 43 फीसदी तक बढ़ गई है और लंबित मामलों की संख्या 40 लाख तक पहुंच चुकी है। सरकार की कोशिश होनी चाहिए कि ऐसे मामलों को रोक कर नहीं रखना चाहिए। जजों की नियुक्तियां तुरंत होनी चाहिए।

मुख्य न्यायधीश ने केंद्र सरकार को चार सप्ताह के भीतर इस मामले में अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
centre has stalled the process of appointing judges to the High Courts.
Please Wait while comments are loading...