कश्मीर का पहला गांव जो हुआ कैशलेस, पैसे की नहीं कोई दिक्कत

Subscribe to Oneindia Hindi

श्रीनगरनोटबंदी के बाद देशभर में लोगों को कैश को लेकर काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन कैश की कमी के बीच कश्मीर के बड़गांव जिले में एक ऐसा गांव भी है जहां कैश की कोई किल्लत नहीं है।

currency

लनूरा गांव में पैसे की नहीं जरूरत
जम्मू कश्मीर में लनूरा गांव जोकि श्रीनगर से तकरीबन 30 किलोमीटर दूर है, वह प्रदेश का पहला कैशलेस गांव बन गया है। इसकी आधिकारिक घोषणा प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने करके इसकी पुष्टि भी की है।

उर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने की नोटबंदी से मिले फायदे की बात, कहा सबके साथ शेयर करेंगे

हर घर में एक व्यक्ति करता है ई पेमेंट
इस गांव में कम से कम एक आदमी हर घर में ईपीएस यानि इलेक्ट्रानिक पेमेंट सिस्टम के बारे में जानता है, उसे बकायदा ट्रेनिंग दी गई है। इस गांव में अभी तक कुल 150 लोगों को ट्रेनिंग दी गई है।

150 लोगों को दी गई ट्रेनिंग
लनूरा गांव पंचायत बुगारू बी ब्लॉक के अंदर आता है। इस गांव में 150 लोगों को ईपीएस की ट्रेनिंग दी गई है। प्रवक्ता का कहना है कि यह ई गवर्नेंस, एनआईसी के अथक प्रयासों से संभव हो सका है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Cash crunch has no issues here in this village of Kashmir. First village of the state to go cashless. There is at least one person trained for electronic payment in each house.
Please Wait while comments are loading...