समिट में पीएम मोदी ने कहा, साइंस इंटरनेशनल लेकिन टेक्‍नोलॉजी लोकल

ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे और नरेंद्र मोदी एक ही मंच पर। दोनों ने इंडिया-यूके टेक समिट में की शिरकत।

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे भारत पहुंच गई हैं और यहां पर उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ इंडिया-यूके टेक समिट में शिरकत की। प्रधानमंत्री बनने के बाद मे की यह पहली द्विपक्षीय यात्रा है।

pm-modi-and-british-pm-theresa-may.jpg

पढें-कौन हैं ब्रिटेन की दूसरी महिला पीएम थेरेसा मे 

भारत के लिए गर्व की बात मे का दौरा

समिट के दौरान ब्रिटिश पीएम मे ने भारत और ब्रिटेन के बीच के रिश्‍ते को काफी अहम बताया। मे ने कहा कि भारत और ब्रिटेन के रिश्‍ते काफी पुराने और प्राकृति हैं।

वहीं पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि भारत के लिए यह गर्व का मौका है कि मे ने अपनी पहली विदेश यात्रा के लिए भारत को चुना है।

समिट में बोलते हुए पीएम मोदी ने उम्‍मीद जताई कि मे की भारत यात्रा कई मायनों में अहम साबित होगी।

पीएम मोदी ने बताया कि जब वह पिछले वर्ष ब्रिटेन दौरे पर गए थे तो उस समय इस तरह की टेक समिट का ख्‍याल आया था। आज यह हकीकत बन चुका है।

तकनीक होनी चाहिए लोकल

पीएम मोदी ने बताया कि भारत अब काफी तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्‍यवस्‍था है और यहां पर निवेश का एक सकारात्‍मक माहौल तैयार किया गया है।

पीएम मोदी के मुताबिक विज्ञान अंतराष्‍ट्रीय है लेकिन तकनीक को स्‍थानीय ही रहने देना चाहिए। इस तरह के सम्‍मेलन ऐसा मौका देते हैं जहां पर आप एक दूसरे की जरूरतों को समझ सकते हैं।

ब्रिटिश पीएम मे तीन दिन की भारत यात्रा पर रविवार रात दिल्ली पहुंची हैं। वहां यहां पर आठ नवंबर तक रहेंगी।

पीएम बनने के बाद यह थेरेसा का यूरोप के बाहर और भारत में पहला दौरा है। दिल्‍ली से थेरेसा बेंगलुरु जाएंगी और बेंगलुरु में वह अलसूर में ऐतिहासिक सोमेश्वर मंदिर के दर्शन करेंगी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
British PM Theresa May and Prime Minister Narendra Modi comes together and have attended India-UK Tech Summit.
Please Wait while comments are loading...