प्रधानमंत्री के आंसुओं को बृंदा करात ने बताया 'नाटकबाजी'

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। 500 और 1000 रुपए के नोट बंद होने के बाद रविवार को गोवा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिए गए भावुक भाषण को सीपीआई (एम) की वरिष्ठ नेता बृंदा करात ने नाटकबाजी करार दिया है।

Brinda karat

प्रधानमंत्री के 50 दिन का समय मांगने वाले बयान पर प्रतिक्रया देते हुए बृंदा करात ने कहा, 'प्रधानमंत्री क्या जनता को भूख से बचने के लिए कुछ टाइम दे रहे हैं।'

उन्होंने कहा कि हम प्रधानमंत्री के आंसू देखें या उस विधवा के आंसू देखें, जिसे सुबह से रात तक काम करने के बाद वेतन नहीं मिल रहा है।

अब 24 नवंबर तक स्वीकार किए जाएंगे 500 और 1000 के पुराने नोट

उन्होंने कहा कि 20 लाख कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल रहा है।

बृंदा करात ने पीएम के भावुक होने पर कहा कि ये प्रधानमंत्री की नाटकबाजी है।

गौरतलब है कि रविवार को गोवा में भाषण देते समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भावुक हो गए थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गोवा में जमकर कालाधन और भ्रष्टाचार पर हमला बोला, उन्होंने कहा कि कालाधन के बाद अब बेनामी संपत्ति वालों की बारी है, हम उन्हें नहीं छोड़ने वाले हैं।

1000-500 के नोट बदलने के लिए वेश्याओं ने दिया खुला ऑफर

प्रधानमंत्री ने भावुक होकर कहा कि मैंने घर परिवार सबकुछ देश के लिए छोड़ा है। उन्होंने कहा कि यह संपत्ति देश की है, देश के गरीब की है, गरीबों की मदद करना मेरा कर्तव्य है और मैं उसे करुंगा।

पीएम ने कहा कि 70 साल की बीमारी को मुझे 17 महीने में मिटाना है। उन्होंने कहा कि मैं कुर्सी के लिए पैदा नहीं हुआ। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैंने लोगों को कई मौके दिया, लेकिन लोग अपनी ही दुनिया में मगन थे, उन्हें लगता था कि ये मोदी कुछ नहीं करेगा, दूसरी पार्टियों की तरह ये भी चला जाएगा।

30 दिसंबर के बाद मोदी उठाएंगे एक और बड़ा कदम, जानें क्या?

प्रधानमंत्री ने कहा कि आपने सुना होगा दिल्ली में रहने वाला बाबू गोवा में फ्लैट खरीदता है। वह रहता कहीं और है और नौकरी दिल्ली में करता है, गोवा से उसका कोई लेना-देना नहीं है, ऐसे में वह गोवा में फ्लैट खरीदता है।

पीएम ने पूछा आपको क्या लगता है वह यह फ्लैट अपने नाम से खरीदता है, नहीं वह किसी और के नाम से खरीदता है। हम अब ऐसे लोगों को बख्शने वाले नहीं है, हमने ऐसा कानून बनाया है कि बेनामी संपत्ति वालों की अब खैर नहीं है और उनके खिलाफ बड़ा कदम उठाएंगे।

उन्होंने कहा कि जिनके पास बेनामी संपत्ति होगी हम कानूनन उसपर हमला बोलने वाले हैं।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
CPI (M) leader Brinda Karat says PM Modi emotional speech in Goa was a drama.
Please Wait while comments are loading...