बड़ा आरोप: विदेशी कॉलगर्ल के साथ तस्वीरें दिखाकर वरुण गांधी से हासिल किए गए डिफेंस सीक्रेट

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बीजेपी सांसद वरुण गांधी पर डिफेंस सीक्रेट लीक करने का आरोप लगा है। यूपी चुनाव से ठीक पहले सामने आए इस आरोप की वजह से उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। उनके खिलाफ अमेरिकी वकील और हथियारों के सौदागर सी एडमंड्स एलन ने प्रधानमंत्री कार्यालय के नाम चिट्ठी लिखकर शिकायत की है।

Varun Gandhi

स्कॉर्पियन पनडुब्बी मामला: वरुण गांधी के खिलाफ आरोपों का आर्म्‍स डीलर अभिषेक ने किया खंडन

उन्होंने चिट्ठी में लिखा कि वरुण गांधी को ब्लैकमेल करके विदेशी हथियार निर्माताओं ने डिफेंस सीक्रेट हासिल किए हैं। चिट्ठी में यह भी कहा गया है कि वरुण को विदेशी कॉल गर्ल्स और वेश्याओं के साथ खींची गई तस्वीरों के जरिए ब्लैकमेल किया गया है।

पढ़ें: लड़की समझकर पुलिसवाले से चैट पर करता था गंदी बातें, पहुंचा जेल

इन लोगों को भेजी गई है शिकायत
अमेरिकी वकील की ओर से यह चिट्ठी रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर और देश के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को भेजी गई है। शिकायत में यह भी आरोप लगाया गया है कि विवादास्पद हथियार कारोबारी अभिषेक वर्मा ने बीजेपी सांसद का इस्तेमाल अपने फायदे के लिए किया है और उनके जरिए डिफेंस सीक्रेट हासिल किए हैं।

दोनों पहले थे पार्टनर
अभिषेक वर्मा और एलन साल 2012 से पहले पार्टनरशिप में बिजनेस कर रहे थे। एलन ने आरोप लगाया है कि संसदीय रक्षा समिति का सदस्य होने के नाते वरुण गांधी ने अपनी ताकत का गलत इस्तेमाल किया और देश की सुरक्षा के खिलाफ काम किया।

पढ़ें: पढ़ाई के दौरान पांच साल की बच्ची का यौन उत्पीड़न करता था 'धर्मगुरु'

प्रशांत भूषण ने उठाए थे सवाल
वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने इस पूरे मामले में मोदी सरकार की ओर से कार्रवाई न किए जाने पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि नेवी वार रूम लीक से जुड़े सबूत मिलने के बाद भी सरकार खामोश क्यों है। उन्होंने इसके पहले राफेल डील पर भी सवाल उठाया और सवाल किया कि सरकार ने इस मामले में कार्रवाई करने के बजाय सीधे डील साइन क्यों कर ली।

बता दें कि रक्षा मंक्षी ने पहले स्वीकार किया था कि राफेल डील में पिछली सरकार के समय दलाली हुई है। हालांकि गुरुवार को उन्होंने कहा कि राफेल डील सबसे बेहतर डील है।

वरुण गांधी ने दी सफाई
मामला सामने आने के बाद वरुण गांधी ने कहा कि वकील प्रशांत भूषण की ओर से लगाए सभी आरोप निराधार हैं और वह उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर करेंगे। उन्होंने कहा, 'अभिषेक वर्मा से मैं लंदन में पढ़ाई के दौरान मिला था। तब मैं 22 साल का था। उसके बाद से मेरी उससे मुलाकात नहीं है। मैं डिफेंस कमेटी में सदस्य था, लेकिन जब हमें वहां कोई सीक्रेट नहीं बताया जाता तो हम किसे और कैसे बता देंगे।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
bjp mp varun gandhi in trouble over defence secret leak to arms dealer
Please Wait while comments are loading...