भोजपुरी को संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल किये जाने का मुद्दा संसद में

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। यूपी पूर्वांचल सहित तमाम अन्य जगहों पर बोली जाने वाली भोजपुरी भाषा को संविधान की आठवीं अनुसुची में शामिल किये जानी की मांग तेज हो गयी है। भाजपा सांसद संजय कुमार जायसवाल ने सरकार से इस बाबत कदम उठाने की मांग की है।

बिहारियों को मिले नौकरी में 80 प्रतिशत आरक्षण: लालू यादव

BJP MP raised issue of Bhojpuri to include in 8th article of constitution

संसद में आज शून्यकाल के दौरान संजय जायसवाल ने भोजपुरी भाषा को संविधान की आठवी अनुसुची में जल्द से जल्द शामिल किये जाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि लंबे समय से इसे आठवीं अनुसूची में शामिल किये जाने की मांग हो रही है।

संजय जायसवाल ने भोजपुरी भाषा को आठवीं अनुसूची में शामिल किये जाने के लिए आठ अगस्त से दिल्ली के जंतर मंतर पर धरना प्रदर्शन करने का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा कि 14वीं लोकसभा में भी यह आश्वासन दिया गया था कि भोजपुरी को आठवीं अनुसूची में शामिल किया जाएगा लेकिन ऐसा आजतक नहीं किया गया।

भोजपुरी भाषा के समर्थन में जायसवाल ने कहा कि नेपाल के प्रधानमंत्री ने भोजपुरी भाषा में शपथ ग्रहण की थी, मारीशस में भी बड़ी संख्या में लोग भोजपुरी भाषा बोलते हैं। ऐसे में जब करोड़ों लोग भारत में भोजपुरी भाषा बोलते हैं तो इसे क्यों नहीं आठवीं अनुसूची में शामिल किया जाता है। जायसवाल ने गृहमंत्री से निवेदन करते हुए कहा कि हमारी उनसे अपील है कि आम बोलचाल की भाषा बन चुकी भोजपुरी भाषा को जल्द ही आठवीं अनुसूची में वह शामिल करायें।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP MP raised issue of Bhojpuri to include in 8th article of constitution. MP Sanjay Jaiswal says Bhojpuri is spoken across the nation.
Please Wait while comments are loading...