नीतीश को अपने पास लाऊं, बीजेपी का बस इतना सा ख्बाव है

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। लोहा गर्म है मार दो हथौड़ा, राजनीति के खेल में माहिर बीजेपी के खिलाड़ी इसी फार्मूले पर काम रहे हैं ऐसा लग रहा है कि उनका बस एक ही ख्वाब है किसी तरीके से बिहार में नीतीश बीजेपी के साथ आ जाए और बीजेपी सरकार में शामिल हो जाए। लालू के 22 ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे के बाद राजनीतिक हालात तेजी से बदला है। लालू ट्वीट के जरिए बीजेपी को नया एलायंस पार्टनर मिलने का मुबारकबाद दे रहे है तो वहीं ये भी कह रह है कि बीजेपी वालों लालच मत करों बिहार में महागठबंधन अटूट है। वहीं कई मौकों पर ऐसा दिखा कि बीजेपी , नीतीश को अपने पाले में लाने के लिए एड़ी चोटी लगा रही है।

सुशील मोदी ने लालू का साथ छोड़ने की सलाह दी

सुशील मोदी ने लालू का साथ छोड़ने की सलाह दी

लालू यादव के ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे के बाद नीतीश कुमार क्या फैसला लेंगे ये तो बाद की बात है लेकिन उससे पहले बीजेपी नेता सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को लालू का साथ छोड़ने की सलाह दे दी। सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह देते हुए कहा है कि अब तो आप लालू यादव का साथ छोड़िए,उनके आरोपी बेटों तेजस्वी और तेजप्रताप को बर्खास्त कीजिए। साथ ही सुशील मोदी ने कहा है कि नीतीश कुमार जी ने ही केंद्र सरकार से नोटबंदी के बाद बेनामी संपत्ति पर भी कार्रवाई करने की मांग की थी और जब केंद्र सरकार ने कार्रवाई शुरू की है तो उन्होने चुप्पी साध ली है। नीतीश कुमार को भी पता है कि लालू के साथ रहकर वो कभी भी बिहार में सुशासन नहीं ला सकते।

 लालू और शहाबुद्दीन के ऑडियों टेप आने के भी बाद समर्थन का ऑफर किया था

लालू और शहाबुद्दीन के ऑडियों टेप आने के भी बाद समर्थन का ऑफर किया था

लालू यादव और सिवान के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन का ऑडियों टेप आने के बाद भी सुशील मोदी ने नीतीश को समर्थन का ऑफर किया था। बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने अपने बयान में कहा था कि अगर सीएम नीतीश कुमार आरजेडी प्रमुख लालू यादव का हाथ छोड़ते हैं तो बीजेपी उनको समर्थन देने पर विचार कर सकती है।

नित्यानंद राय ने महागठबंधन पर विचार करने को कहा

नित्यानंद राय ने महागठबंधन पर विचार करने को कहा

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने आयकर विभाग की छापेमारी के बाद सीएम नीतीश कुमार पर चुटकी ली है।दरभंगा में नित्यानंद राय ने मीडिया से बात करते हुए लालू ठिकानों पर हुई छापेमारी पर खुशी जतायी थी। साथ ही कहा था कि नीतीश कुमार को भी इस कार्रवाई का न सिर्फ स्वागत करना चाहिए बल्कि महागठबंधन पर भी एक बार विचार करना चाहिए।नीतीश पर आरोप लगाते हुए नित्यानंद ने कहा कि नीतीश कुमार की बीजेपी शासनकाल वाली पहचान धूल गयी है। अब नीतीश कुमार की पहचान घोटाले , भष्ट्राचार और अपराधकर्मी के संरक्षण देने वाले नेता और मुख्यमंत्री की बन चुकी है। उनको इन मसलों पर सोचना चाहिए।

रामविलास पासवान करना चाहते हैं स्वागत

रामविलास पासवान करना चाहते हैं स्वागत

लोजपा चीफ रामविलास पासवान ने भी एक बड़ा बयान दिया है। पासवान ने कहा है कि अगर नीतीश कहें तो एनडीए में उनका स्वागत है।

लालू ने कहा लार मत टपकाओ

लालू ने कहा लार मत टपकाओ

नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ जाने या नहीं जाने को लेकर खुल कर कोई बात बीते दिनों में नहीं की है। लेकिन लालू ने ट्वीट के जरिए बीजेपी पर निशाना साध और कहा कि लार मत टपकाओं महागठबंधन अटूट है। आपको बता दें कि बिहार जदयू- कांग्रेस,और राजद मिलकर सरकार चला रहे हैं। और बीजेपी विपक्ष की भूमिका में है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bjp is dreaming to go close with nitish kumar in bihar
Please Wait while comments are loading...