बगावती शरद यादव पर नीतीश का पहला वार, नेता पद से हटाया

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) में घमासान तेज होता जा रहा है। जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष शरद यादव के बगावती तेवर के बाद पार्टी ने उनके पर कतरने की कवायद शुरू कर दी है। इसी कड़ी में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जेडीयू ने बड़ा दांव चलते हुए शरद यादव को राज्यसभा में पार्टी संसदीय दल के नेता पद से हटा दिया है। शरद यादव की जगह आरसीपी सिंह को राज्यसभा में नया नेता चुने जाने का आधिकारिक पत्र सौंप दिया है।

शरद यादव पर बड़ी कार्रवाई

शरद यादव पर बड़ी कार्रवाई

जेडीयू की ओर से शरद यादव को राज्यसभा के नेता पद से हटाए जाने का खुलासा बिहार जेडीयू के अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने किया। उन्होंने बताया कि शरद यादव को हटाया नहीं जा रहा है, इसमें केवल बदलाव किया जा रहा है। शरद यादव की जगह जेडीयू की ओर से राज्यसभा में आरसीपी सिंह नए नेता होंगे। शरद यादव के हालिया घटनाक्रम को देखते हुए ये कदम उठाया गया है।

Sharad Yadav को JDU ने Rajya Sabha में Leader पद से हटाया । वनइंडिया हिंदी
राज्यसभा में जेडीयू के नेता पद से हटाया गया

राज्यसभा में जेडीयू के नेता पद से हटाया गया

बिहार जेडीयू अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि राज्यसभा में जदयू के सांसदों ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू से मुलाकात की और उन्हें लिखित में इस बात की जानकारी दी है कि जेडीयू की ओर से नए नेता आरसीपी सिंह होंगे। उन्होंने ये भी कहा कि ये कार्रवाई इसलिए भी जरूरी है क्योंकि अगर कोई नेता पार्टी के खिलाफ गतिविधियों में शामिल हो जाए तो इसकी सर्वसम्मति से निंदा की जानी चाहिए। वहीं शरद यादव को राज्यसभा में नेता पद से हटाए जाने से एक दिन पहले उनके करीबी राज्यसभा सांसद अली अनवर को भी जेडीयू संसदीय दल से निलंबित कर दिया था।

जेडीयू में शुरू हुई आर-पार की लड़ाई

जेडीयू में शुरू हुई आर-पार की लड़ाई

बता दें कि जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) में आर-पार की लड़ाई तब से शुरू हुई जब नीतीश कुमार ने आरजेडी का साथ छोड़कर बीजेपी के साथ बिहार में सरकार बनाई। नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ गठबंधन करके बिहार के मुख्यमंत्री बन गए। हालांकि पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद यादव को नीतीश कुमार का ये फैसला मंजूर नहीं था। उन्होंने नीतीश कुमार के फैसले पर सवाल खड़े किए। इतना ही नहीं शरद यादव बिहार में एक संपर्क यात्रा भी निकाली, जिसमें नीतीश कुमार के फैसले की आलोचना की है।

शरद यादव जब नीतीश कुमार ने तोड़ी चुप्पी

शरद यादव जब नीतीश कुमार ने तोड़ी चुप्पी

वहीं शुक्रवार को दिल्ली पहुंचे बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शरद यादव के मुद्दे पर पहली बार चुप्पी तोड़ी। उन्होंने कहा कि शरद यादव अपना फैसला लेने के लिए स्वतंत्र हैं, साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि बीजेपी के साथ गठबंधन का फैसला पार्टी ने चर्चा के बाद पूरी सहमति से लिया है। बता दें शुक्रवार को नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की थी।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Bihar JDU President says Met Vice President And gave writing we elected RCP Singh as our leader in Rajya Sabha.
Please Wait while comments are loading...