हरियाणा: मेवात से लिए गए बिरयानी सैंपल्स की जांच में मिले बीफ

Subscribe to Oneindia Hindi

हिसार। मेवात से लिए गए बिरयानी के सातों सैंपल्स की जांच में बीफ पाए गए हैं। बिरयानी के ये सैंपल्स बीफ टेस्ट के लिए दो दिन पहले लाला लाजपत राय यूनिवर्सिटी ऑफ वेटनरी एंड एनिमल साइंसेस में भेजे गए थे। टेस्ट का रिजल्ट पॉजिटीव निकला है। हरियाणा सरकार के आदेश के बाद मेवात से ये सैंपल्स लिए गए थे।

READ ALSO: सड़क किनारे मिलने वाली बिरयानी की भी जांच, कहीं बीफ तो नहीं

biryani

यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता ने इस बारे में बताया है कि बिरयानी के सात सैंपल्स मेवात प्रशासन ने यहां भिजवाए थे जिसमें बीफ होने की जांच की गई जिसका रिजल्ट पॉजिटीव आया है। हरियाणा सरकार को यह रिपोर्ट भेज दी गई है।

हरियाणा में लगा है बीफ पर बैन

हरियाणा सरकार ने गौरक्षा और गौ संवर्धन एक्ट के तहत गाय की हत्या, बीफ को बेचने और किसी भी प्रकार से इसके उपभोग पर प्रतिबंध लगा रखा है। ऐसा करना हरियाणा में अपराध है और इसके लिए 10 साल जेल की सजा का प्रावधान किया गया है।

मेवात जिले से मिली थी शिकायत

मेवात हरियाणा का मुस्लिम बहुल जिला है। मेवात जिला प्रशासन को मुंडका गांव में फिरोजपुर झिरका क्षेत्र से शिकायत मिली थी कि यहां बिरयानी में बीफ मिलाया जा रहा है। जिसके बाद प्रशासन ने उस क्षेत्र की दुकानों से बिरयानी के सैंपल्स उठाए थे।

बकरीद की वजह से सावधानी बरत रही है पुलिस

मुस्लिमों का त्योहार बकरीद अगले सप्ताह में है इसलिए पुलिस और गौरक्षक मुंडका गांव में नजर रखे हुए है ताकि उस अवसर पर यहां बीफ से जुड़ी कोई घटना न हो।

मेवात पशुपालन विबाग के डिप्यूटी डायरेक्टर नरेंद्र कुमार का कहना है कि अगर फिर शिकायतें आईं तो और सैंपल्स लिए जाएंगे और उनकी जांच होगी। अधिकारियों का कहना है कि पुलिस की काउ प्रोटेक्शन टास्क फोर्स ने उन इलाकों में अपने इनफॉर्मर्स लगा रखे हैं जहां बीफ के सबसे ज्यादा उपभोग किए जाने के संदेह हैं।

READ ALSO: चीन का यह 'लड़ाकू' कदम भारत के खिलाफ सैन्य तैयारी का सबूत?

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Beef test found positive on all the seven samples of biryani collected from Mewat, said spokesperson of LLRU.
Please Wait while comments are loading...