'पोकेमोन गो' के खिलाफ फतवा जारी, इस्लाम के लिए बताया हराम!

By: हिमांशु तिवारी आत्मीय
Subscribe to Oneindia Hindi

बरेली। 'पोकेमोन गो' तो सुना होगा न...अरे नहीं भई खेला होगा न...हो सकता है कि आपमें से कई लोगों के मोबाइल में भी हो। बहरहाल उत्तर प्रदेश के बरेली की विश्व प्रसिद्द दरगाह आला हजरत ने दुनिया के सबसे लोकप्रिय माने जा रहे मोबाइल गेम 'पोकेमोन गो' के खिलाफ फतवा जारी कर दिया है। 

पोकेमोन...हर इंसा इसकी गिरफ्त में क्यों भाई?

'शैतान को दिखाया गया है बेहद ताकतवर'

दरगाह के मुफ्ती सलीम नूरी ने कहा कि यह गेम शरीयत के खिलाफ है। और इस गेम का यह कहकर विरोध किया गया कि इसमें शैतान को बेहद ताकतवर दिखाया है और शैतान को किसी भी धर्म या मजहब ने नहीं अपनाया है।

सवालों के जवाब में जारी हुआ फतवा

जानकारी के मुताबिक बरेली की आला हजरत दरगाह से दक्षिण अफ्रीका और मॉरीशस के मुसलमानों ने इस गेम को लेकर चंद सवाल पूछे थे। जिसके जवाब में शनिवार को मुफ्ती नूरी ने इस गेम को असुरक्षित और हराम करार दे दिया।

आखिर क्या है 'पोकेमोन गो'

'पोकेमोन गो' आईओएस और गूगल प्ले स्टोर से सबसे ज्यादा डाउनलोड और यूज़ किया जाने वाला ऐप है। इतना ही नहीं प्राप्त जानकारी के मुताबिक इस गेम ने सबसे ज्यादा यूज किए जाने के मामले में फेसबुक को भी पछाड़ दिया है। यह खेल 16 जुलाई को लॉन्च किया गया था और तब से यह काफी लोकप्रिय हो चुका है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Durga Ala Hazarat in Bareli has issued a Fatwa against Pokemon Go mobile phone game. Playing of the mobile game is dangerous to the persons who are involved in the game, Fatwa said.
Please Wait while comments are loading...