पीएम के भाषण के बाद भी रुक नहीं रहे हैं दलितों पर शोषण के मामले, देखिये पूरी लिस्ट

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। जिस तरह से पिछले कुछ दिनों में दलितों पर अत्याचार के मामले सामने आ रहे थे, उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी बोलने के लिए मजबूर कर दिया। लेकिन पीएम के बयान के बाद भी दलितों पर अत्याचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। प्रधानमंत्री ने दलितों पर बढ़ रहे अत्याचार के मामलों पर लोगों से भावुक अपील करते हुए कहा था कि मेरे दलित भाइयों पर हमले बंद कीजिए, अगर आपको मारना है तो मुझे गोली मारिये, लेकिन मेरे दलित भाइयों को मत मारिये।

चोरी के आरोप में युवक को पीटा, जाति पूछी और फिर जान से मारा

Atrocities on Dalits has not stopped despite the speech of PM Narendra Modi

लेकन पीएम की इस अपील के बाद भी दलितों पर हमले के मामले रुक नहीं रहे हैं। दलितों पर अत्याचार के मामले पर आज संसद के दोनों सदन में बहस चल रही है। लेकिन इन सब के बीच हम आपको उन घटनाओं से रूबरू करायेंगे जिनमें दलितों के खिलाप अत्याचार पीएम के भाषण के बाद भी जारी हैं।

13 साल की लड़की को मंदिर के पुजारी ने नहीं पीने दिया पानी

7 अगस्त

सदर कोतवाली में दो दलित नाबालिग बच्चो को खंभे से बांधकर मारने की घटना सामने आयी, जिसमें दोनों पर चोरी का आरोप था।

8 अगस्त

दो दलित भाईयों के गोरक्षकों ने भीड़ में कपड़े उतरवाये और उनकी पिटायी की, उनपर गाय की खाल ले जाने के संदेह में यह किया गया। लेकिन बाद में यह बात सामने आयी की गाय की मृत्यु करेंट लगने से हुई थी। यह घटना आंध्र प्रदेश के अमलपुरम की है।

9 अगस्त

22 साल के दलित युवक को दुकान के मालिक और कर्मचारियों ने पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया। उसर दुकान से घड़ी चुराने का आरोप था। यह घटना यूपी के लखीमपुर खीरी की है। इसी दिन 15 साल की दलित लड़की के साथ गैंगरेप का भी मामला सामने आया, यह मामला बडौदा के सोनीपत का है। पुलिस के अनुसार लड़की को स्कूल से लौटते वक्त खेत में रेप किया गया। वहीं मुजफ्फरनगर में 30 साल के दलित युवक को भी ग्राम प्रधान व अन्य लोगों ने जमकर पिटायी की। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है।

10 अगस्त

यूपी के संभल में दलित लड़की मंदिर के कुएं से पानी निकालने गयी तो उसे मंदिर के पुजारी ने जमकर पीटा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Atrocities on Dalits has not stopped despite the speech of PM Narendra Modi. Everyday incidents against dalits are taking place despite PM appeal.
Please Wait while comments are loading...