केंद्रीय मंत्री ने कहा- 50 से बढ़ाकर 75 फीसदी की जाए आरक्षण की सीमा

Subscribe to Oneindia Hindi

भुवनेश्वर। केंद्रीय मंत्री रामदास आठवले ने मंगलवार को उड़ीसा के भुवनेश्वर में कहा कि आरक्षण की सीमा को 50 फीसदी से 75 फीसदी की जानी चाहिए। वो उच्च जाति के गरीबों के लिए 25 फीसदी आरक्षण चाहते हैं।

संपत्ति के लिए भाइयों ने बहाया भाई का खून, सेप्टिक टैंक में छुपाई लाश

india,bjp,modi government,reservation

उन्होंने कहा कि इसके लिए आरक्षण की सीमा 50 फीसदी से 75 फीसदी करनी होगी और इसलिए संविधान संशोधन हो सकता है।

उरी: NIA ने दर्ज की FIR, आतंकियों के हथियार भेजे जाएंगे अमेरिका

आठवले ने कहा कि वे उन उच्च जाति के गरीबों को 25 फीसदी आरक्षण देने के पक्ष में हूं।

बढ़ाई जाए सीमा

केंद्रीय सामजिक न्याय राज्यमंत्री आठवले ने पत्रकारों से कहा कि आरक्षण की मौजूदा सीमा 50 फीसदी से बढ़ाकर 75 फीसदी बढ़ाई जानी चाहिए ताकि आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों को भी आरक्षण की समायोजित किया जा सके।

श्रीनगर हवाई अड्डे पर MiG-21 की हुई आपात लैंडिंग, पायलट सुरक्षित

इसमें गुज्जर, पटेल,राजपूत,मराठी, जाट और ब्राह्मणों को शामिल किए जाएंगे।

किया जाए संविधान संशोधन

आसाराम के भक्तों ने जहाज में किया ऐसा कुछ कि कई यात्री नहीं भूल पाएंगे जोधपुर से दिल्ली की यात्रा

भारतीय जनता पार्टी के गठबंधन सहयोगी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (ए) के राष्ट्रीय अध्यक्ष आठवले ने कहा कि आरक्षण की सीमा बढ़ाने के लिए बिना किसी कानूनी बाधा के संविधान संशोधन किया जाना चाहिए।

आठवले ने इस बात पर जोर दिया कि जो 25 फीसदी आरक्षण सीमा बढ़ाई जाएगी उसमें अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और दलित शामिल नहीं किए जाएंगे।

माया से छीन लेंगे हाथी

उरी आतंकी हमले का बदला, एलओसी पर इंडियन आर्मी ने मारे 10 आतंकी

इस दौरान दलित नेता आठवले ने यह भी कहा कि वो आगामी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मायावती से हाथी छीन लेंगे।

उन्होंने कहा कि हकीकत में हाथी उनके दल रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (ए) (आरपीआई) का निशान है लेकिन आरपीआई के विभाजन और बहुजन समाज पार्टी के उदय के चलते मायावती ने इसे छीन लिया।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Athawale seeks 25 pc reservation for upper caste poor
Please Wait while comments are loading...