असम में बाढ़ से 25 जिले प्रभावित, काजीरंगा पार्क में भी भरा पानी

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। उत्तर पूर्वी राज्य असम में बाढ़ के चलते हालात बेहद खराब होते जा रहे हैं। भारी बारिश और ब्रह्मपुत्र समेत इसकी सहायक नदियों का जलस्तर बढ़ने से प्रदेश के 25 से ज्यादा जिले बाढ़ से प्रभावित हैं। जानकारी के मुताबिक अब तक 50 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। फिलहाल प्रदेश सरकार की ओर से राहत-बचाव के लिए कोशिशें जारी हैं। केंद्र सरकार भी हालात पर नजर रखे हुए है, हरसंभव जरूरी मदद देने का आश्वासन दिया है।

50 से ज्यादा लोगों की मौत

50 से ज्यादा लोगों की मौत

असम में 25 से ज्यादा जिलों में बाढ़ का सबसे ज्यादा असर देखा जा रहा है। इन जिलों में अलर्ट घोषित किया गया है वहीं प्रदेश के करीब दो हजार से ज्यादा गांव डूब चुके हैं। भयंकर बाढ़ से जहां अब तक 50 से ज्यादा लोगों की जान चली गई है, वहीं करीब 20 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं।

कई गांव हुए जलमग्न

कई गांव हुए जलमग्न

बाढ़ से राज्य के माजुली, धेमाजी, सिवसागर, गोलाघाट और नगांव जिलों पर बुरा असर पड़ा है। इनके अलावा बारपेटा, गोलाघाट और गोपुर जिलों में भी बाढ़ से हालात बेहद खराब हैं। आलम ये है कि गांव के गांव जलमग्न हो गए हैं और गांव से जुड़ी हुई सड़कें तालाब बन चुकी हैं। बाढ़ के चलते निचले असम में आम जनजीवन पूरी तरह से ठप हो चुका है।

काजीरंगा नेशनल पार्क में भरा पानी

काजीरंगा नेशनल पार्क में भरा पानी

असम में बाढ़ का असर यहां के काजीरंगा नेशनल पार्क में भी देखा जा रहा है। इसका अधिकतर हिस्सा बाढ़ के पानी में डूब जाने से वन्य जीवों की जान आफत में पड़ गई है। जानकारी के मुताबिक काजीरंगा नेशनल में पार्क में बाढ़ की वजह से 55 जानवरों की मौत हो चुकी है। मरने वाले जानवरों में सबसे ज्यादा हिरन हैं।

सीएम ने किया बाढ़ ग्रस्त इलाकों का दौरा

सीएम ने किया बाढ़ ग्रस्त इलाकों का दौरा

ब्रह्मपुत्र नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। तकरीबन 1 लाख हेक्टेयर में फसल बर्बाद हो चुकी है। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल बाढ़ग्रस्त इलाकों का दौरा किया है। इस दौरान सीएम ने राहत शिविरों का भी जायजा लिया। मुख्यमंत्री ने माजुली और काजीरंगा नेशनल पार्क का भी दौरा किया।

केंद्र सरकार भी रख रही है नजर

केंद्र सरकार भी रख रही है नजर

असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल के अनुसार बाढ़ प्रभावितों को लेकर फंड की कोई कमी नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उत्तर पूर्वी राज्यों में बाढ़ के हालात की पूरी जानकारी ले रहे हैं। उन्होंने इस संबंध में समीक्षा बैठक भी की। अरुणाचल प्रदेश में बाढ़ प्रभावित लोगों की मदद के लिए केंद्र ने 51 करोड़ आवंटित किए। केंद्रीय गृहराज्य मंत्री किरण रिजिजू भी बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों का जायजा ले रहे हैं।

इसे भी पढ़ें:- असम में बाढ़ का कहर: 17 लाख लोग प्रभावित, अलर्ट पर कई जिले

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Assam Flood Situation Critical submerge large parts of Kaziranga park.
Please Wait while comments are loading...