आसाराम के भक्तों ने जहाज में किया ऐसा कुछ कि कई यात्री नहीं भूल पाएंगे जोधपुर से दिल्ली की यात्रा

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। 19 सिंतबर को जिन यात्रियों ने जेट एयरवेज के जहाज से जोधपुर से नई दिल्ली की यात्रा की होगी। उन्हें ये यात्रा ताउम्र याद रहेगी।

क्योंकि आसाराम बापू और उनके अनुयायियों ने पूरी यात्रा के दौरान इतना हंगामा किया कि कोई इस यात्रा को भूल ही नहीं पाएगा।

उरी आतंकी हमले का बदला, एलओसी पर इंडियन आर्मी ने मारे 10 आतंकी

asaram

संभवतः उनमें सभी की यात्रा पहली बार आसाराम के साथ, ऐसे में वो शायद ही कभी उनके साथ अपनी यह पहली यात्रा भूल पाएं।

आतंक के पनाहगार पाकिस्तान को मिले करारा जवाब, अंतराष्ट्रीय स्तर पर हो बेनकाब - बीडी मिश्रा

गौरतलब है कि आसाराम बापू पर नाबालिग लड़की से बलात्कार करने का आरोप है। वो 19 सितंबर को अपने 10 अनुयायियों के साथ दिल्ली आ रहे थे।

पूरी यात्रा के दौरान लगते रहे जयकारे

पूरी यात्रा के दौरान उनके अनुयायी 'आसाराम बापू की जय, साईं, साईं' बोलते रहे।

आंखें नम कर देंगी शहीद हुए 18 जवानों के घर की ये कहानियां

अंग्रेजी अखबार इकॉनमिक टाइम्स के अनुसार जब फ्लाइट टेक ऑफ होने को थी, तब उनके अनुयायियों ने सीट बेल्ट नहीं बांधी थी। उनका कहना था कि ' सीट बेल्ट की क्या जरूरत जब स्वयं भगवान हमारे साथ हैं? '

हालांकि सब कुछ यहीं खत्म नहीं हुआ और न ही विवाद की शुरूआत यहीं से हुई। बता दें कि विमान को जोधपुर से सुबह 11.55 पर उड़ान भरनी थी लेकिन आसाराम के देर से आने की वजह से विमान दो घंटे से देरी से उड़ा।

नहीं लगे लाइन में

सीसीटीवी: दिल्ली के बुराडी में सरेआम लड़की की चाकू से गोदकर हत्या, आरोपी गिरफ्तार

साथ ही इस दौरान कोई घोषणा नहीं की गई। यात्रियों को केवल उनके फोन पर संदेश आ रहे थे। जब आसाराम बापू व्हीलचेयर पर अपने अनुयायियों के साथ आए तब बोर्डिंग की घोषण की गई।

जब फ्लाइट दिल्ली लैंड हुआ तब भी आसाराम लाइन में नहीं लगे बल्कि अपने अनुयायियों को लेकर अलग से निकल गए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Asaram bapu came delhi, problem created for passengers in plane
Please Wait while comments are loading...