पंजाब में रैली के बाद अरविंद केजरीवाल ने पूर्व आतंकी के घर बिताई रात, सियासी पारा चढ़ा

चुनावी रैली खत्म करने के बाद केजरीवाल गुपचुप तरीके से मोगा पहुंचे और खालिस्तान कमांडो फोर्स (KCF) के पूर्व आतंकी गुरिंदर सिंह के घर में रात बिताई।

Subscribe to Oneindia Hindi

चंडीगढ़। पंजाब विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत के लिए दिन-रात एक करने वाले आम आदमी पार्टी (AAP) के मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल विवादों में घिर गए हैं। केजरीवाल ने शनिवार को पंजाब में एक रैली के बाद मोगा में पूर्व आतंकवादी के घर में रात बिताई। अकाली दल और कांग्रेस ने पंजाब में AAP पर उग्रवादियों से करीबी रखने का आरोप लगाया है। पुलिस सूत्रों ने भी केजरीवाल के वहां रात में ठहरने की बात को सही बताया है।

इंग्लैंड में रहता है गुरिंदर

4 फरवरी को होने वाले चुनाव के लिए अरविंद केजरीवाल पंजाब में लगातार रैलियां कर रहे हैं। जीरा इलाके में चुनावी रैली खत्म करने के बाद केजरीवाल गुपचुप तरीके से मोगा पहुंचे और खालिस्तान कमांडो फोर्स (KCF) के पूर्व आतंकी गुरिंदर सिंह के घर में रात बिताई। पुलिस सूत्रों ने बताया कि गुरिंदर मोगा के घाल कालां गांव का रहने वाला है और वर्तमान में इंग्लैंड में रह रहा है। उसने करीब छह महीने पहले कनाडा में रहने वाले अपने दोस्त सतनाम सिंह को घर लीज पर दिया था। गुरिंदर पर आरोप था कि उसने साल 1997 में मोगा जिले के मंडी मुस्तफा में एक मंदिर पर धमाका किया था। हालांकि बाद में ट्रायल कोर्ट ने उसे रिहा कर दिया। READ ALSO: बीजेपी विधायक ने मुस्लिम बहुल इलाकों को लेकर दिया बड़ा बयान

'सत्ता पाने के लिए किसी भी हद तक जा रहे हैं केजरीवाल'

सूत्रों के मुताबिक गुरिंदर के दोस्त सतनाम ने केजरीवाल का स्वागत किया। मोगा के SHO रजिंदर पाल सिंह ने बताया कि केजरीवाल शनिवार रात को उस घर में ठहरे और रविवार सुबह वहां से चले गए। हालांकि मोगा के एसएसपी गुरप्रीत सिंह ने इस पर कुछ भी बोलने से इनकार किया है। पंजाब के डिप्टी सीएम और अकाली दल नेता सुखबीर सिंह बादल ने कहा, 'पूर्व आतंकी के घर में रात बिताकर केजरीवाल ने साबित कर दिया है कि सत्ता पाने के लिए वह किसी भी हद तक जा सकते हैं।' उन्होंने कहा कि जिस तरह आम आदमी पार्टी उग्रवादियों से नजदीकी बढ़ा रही है उससे पंजाब की शांति भंग होने के संकेत मिल रहे हैं। READ ALSO: कनाडा की एक मस्जिद में हमला, गोलीबारी में 5 लोगों की मौत

पहले भी केजरीवाल पर लगे हैं आरोप

उधर, इस मामले पर सरगर्मी बढ़ी तो AAP के पंजाब मामलों के प्रभारी संजय सिंह ने सफाई दी कि केजरीवाल उस घर में नहीं रुके। इसके पहले भी केजरीवाल अपनी मुलाकातों की वजह से चर्चा में रहे हैं। जनवरी के पहले सप्ताह में केजरीवाल वे अखंड कीर्तनी जत्था के लोगों से मुलाकात की थी जिसे बब्बर खालसा इंटरनेशनल का राजनीतिक फ्रंट माना जाता है। इस पर भी सुखबीर बादल ने सवाल उठाए और कहा, 'केजरीवाल ने BKI के राजनीतिक फ्रंट अखंड कीर्तनी जत्था के साथ नाश्ता किया। यह एक बड़ा आतंकी संगठन है। उन्होंने उन तीन जत्थेदारों के साथ खाना खाया जिन्होंने खालिस्तान की घोषणा की है।'

AAP उम्मीदवार को भी नहीं पता चला

सूत्रों ने बताया कि मोगा से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार रमेश ग्रोवर को भी इस बात की जानकारी नहीं थी कि केजरीवाल वहां रुके हुए हैं। रविवार सुबह उन्हें जब पता चला तो वह मिलने पहुंचे। पुलिस ने इस बात की पुष्टि की है कि घर का मालिक गुरिंदर ही है जो KCF का आतंकी था। उसके खिलाफ 1997 में हत्या और बम धमाके करने के आरोप में केस दर्ज किया गया था। साल 2008 में उसके खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने का भी केस दर्ज किया गया। हालांकि बाद में वह दोनों मामलों में छूट गया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Arvind kejriwal stays at ex- militant’s house in moga ahead of punjab assembly elections.
Please Wait while comments are loading...