केजरीवाल ने केंद्र सरकार से पूछा, क्‍या दिल्‍ली वाले देशभक्‍त नहीं?

Subscribe to Oneindia Hindi

नयी दिल्‍ली। आजादी के जश्‍न के बीच दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हर बार की तरह इस बार भी दिल्‍ली की आजादी का मुद्दा उठा दिया। छत्रसाल स्टेडियम में दिल्‍ली सरकार के स्‍वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर हमला बोला।टोरंटो फिल्‍म फेस्‍टिवल में दिखाई जाएगी केजरीवाल पर बनी फिल्‍म ''ऐन इनसिग्निफिकेंट मैन''

Arvind Kejriwal

केजरीवाल ने अपने संबोधन में पीएम मोदी का नाम लिए बगैर कहा आज दिल्ली के अंदर जो व्यवस्था है वो वही अंग्रेजी व्यवस्था है, जिसमें आप अपना विधायक और मुख्यमंत्री तो चुन सकते हो, लेकिन उन प्रतिनिधियों को सरकार चलाने का अधिकार नहीं है। केजरीवाल ने कहा कि दिल्‍ली की सरकार तो कोई और चलाता है।जब मोदी बोल रहे थे तो क्या सो रहे थे केजरीवाल और जेटली?

अपने मंच से केजरीवाल ने पीएम मोदी का बिना नाम लिए इशारे-इशारे में पूछा कि कहा कि दिल्ली के लोगों के वोट की कीमत छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र के लोगों के वोट की कीमत से कम क्यों है? केजरीवाल ने कहा कि अगर महाराष्ट्र के, छत्तीसगढ़, हरियाणा, गुजरात जैसे राज्यों के लोगों की वोट की कीमत 100 पॉइंट है तो दिल्ली वालों के वोट की कीमत 20 पॉइंट से भी कम है।

बिना नाम लिए पीएम से पूछा केजरीवाल ने ये सवाल

  • केजरीवाल ने कहा कि क्या दिल्ली के लोग देश के दूसरे राज्यों से कम टैक्स देते हैं?
  • क्या दिल्ली वाले कम देशभक्त हैं?
  • केजरीवाल ने कहा कि अगर ऐसा नहीं है तो वोट की ताकत कम क्यों?
  • आखिर क्यों दिल्ली की सरकार को पूरा अधिकार नहीं?
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Making a strong pitch for statehood, Delhi CM Arvind Kejriwal today claimed the Centre was chipping away at the elected government's power through a system which was akin to the national capital being governed by the colonial 'Government of India Act, 1935'.
Please Wait while comments are loading...