'जल्लीकट्टू' विवाद: मरीना बीच पर लगाए गए देश विरोधी पोस्‍टर्स

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। तमिलनाडु में जल्लीकट्टू आंदोलन सात दिनों से चल रहा है। सोमवार को प्रदर्शन हिंसक हो गया। राज्य के कई शहरों से हिंसा और पुलिस के साथ झड़प की खबरें आईं। चेन्नई में मरीना बीच के आइस हाउस पुलिस स्टेशन में कुछ लोगों ने आग लगा दी। मदुरै और कोयंबटूर में भी आगजनी हुई। इस पूरे मामले पर गृह मंत्रालय नजर बनाए हुए है। खूफिया विभाग ने मामले को नजदीक से देखने के बाद मंत्रालय को रिपोर्ट पेश किया जिसमें मरीना बीच पर कई जगह देश विरोधी पोस्‍टर्स लगाए जाने की बात कही गई है।

'जल्लीकट्टू' विवाद: मरीना बीच पर लगाए गए देश विरोधी पोस्‍टर्स

आईबी ने रिपोर्ट में कहा है कि कुछ अराजक लोग प्रदर्शन में शामिल हो गए और हिंसा को बढ़ावा दिया। हालांकि गृह मंत्रालय ने इस संबंध में राज्‍य सरकार से विस्‍तृत रिपोर्ट मांगा है। तमिलनाडु पुलिस भी मामले की जांच कर रही है कि आखिर राष्‍ट्र विरोधी पोस्‍टर्स प्रदर्शन वाले स्‍थान पर कैसे लगाए गए। पढ़ें- 'जल्लीकट्टू' बवाल: गाड़ियों में आग लगाते दिखे पुलिसवाले, कमल हासन ने ट्वीट किया वीडियो

हिंसक होता जा रहा है प्रदर्शन

मरीना बीच जल्लीकट्टू आंदोलन का केंद्र बना हुआ है। सोमवार सुबह पुलिस ने लोगों को वहां से हटाने की कोशिश की। लाठीचार्ज के साथ आंसू गैस के गोले भी छोड़े गए। इस पर लोगों ने कहा- "जबरन हटाया तो समुद्र में कूद जाएंगे।" पुलिस ने बीच पर आने वाले सभी रास्ते बंद कर दिए। पुलिस अधिकारी ने बताया कि "जब राज्य के कई इलाकों में जल्लीकट्टू को ऑर्गनाइज किया गया है तो अब प्रदर्शन करने का कोई मतलब नहीं है।"

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The Ministry for Home Affairs is closely monitoring the situation in Chennai after the Jallikattu protests turned violent.
Please Wait while comments are loading...