ओडिशा फिर शर्मसार: विधवा की लाश को कमर से तोड़ा फिर बांस पर लटकाकर ले गए

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

भुवनेश्‍वर। ओडिशा में लगातार दूसरे दिन भी इंसानियत को शर्मसार करने वाली तस्‍वीर सामने आयी है। इतना ही नहीं इस तस्‍वीर ने स्‍थानीय शासन-प्रशासन को भी कटघरे में खड़ा कर दिया है।

Woman's body broken at hip, slung on bamboo pole

बालासोर में अस्‍पताल कर्मचारियों की एक तस्‍वीर सामने आई है जिसमें वो एक औरत की लाश को बांस पर लटकाकर ले जा रहे हैं। सन्‍न कर देने वाली बात यह है कि कपड़े में लपेटने के लिए कर्मचारियों को औरत की लाश की हड्डियों को पहले कमर से तोड़ना पड़ा।

क्‍या है पूरा मामला?

बुधवार की सुबह ओडिशा के बालासोर में स्थित सोरो रेलवे स्टेशन पर मालगाड़ी की चपेट में आने से 80 साल की विधवा सालामनी बेहेरा की मौत हो गई। जिसके बाद उनकी लाश को सोरो कम्यूनिटी सेंटर ले जाया गया। सूचना मिलने के 12 घंटे बाद जब पुलिस पहुंची तो पंचनामा कर लाश को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया।

पत्नी का शव कंधे पर लेकर 10 किलोमीटर पैदल चलता रहा शख्स 

लेकिन पोस्‍टमार्टम के लिए ले जाने के लिए एम्बूलेंस की उचित व्यवस्था नहीं की गई। लाश को पोस्‍टमार्टम हाउस तक ले जाने के लिए कम्यूनिटी सेंटर के कर्मचारियों ने वृद्धा के लाश की हड्डियों को पहले तो कमर से तोड़ दिया फिर उसे कपड़े में लपेटा और बांस पर टांगकर ले गए।

 

एक दिन पहले भी आई थी कुछ ऐसी ही तस्‍वीर

इस तस्‍वीर के सामने आने के ठीक एक दिन पहले भी ऐसी ही तस्‍वीर सामने आयी थी। पैसे की कमी और अस्‍पताल प्रशासन की उदासीनता के चलते एक पति ने अपनी पत्नी की लाश कंधो पर उठाकर करीब 12 किमी तक का सफर पैदल तय किया था। मामला कालाहांडी का था।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After the heartwrenching story of the Odisha man who carried his wife's body covering 10 km distance on foot along his daughter in Kalahandi district, another shocking incident came to light on Wednesday from the same state.
Please Wait while comments are loading...