जन्मदिन विशेष : रेखा या जया नहीं थीं बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन का पहला प्‍यार

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बॉलीवुड के 'शहंशाह', एंग्री यंग मैन और सदी के महानायक कहे जाने वाले अभिनेता अमिताभ बच्चन का आज 74वां जन्मदिन है। 11 अक्टूबर 1942 को जन्मे अमिताभ दमदार अभिनय और बुलंद आवाज के दम पर इस उम्र में भी दर्शकों के दिलों पर राज कर रहे हैं।

बाबूजी की चुनिंदा कविताएं जो बिग-बी को बेहद पसंद हैं...

महेंद्र सिंह धोनी से कितनी ज्‍यादा है विराट कोहली की सैलरी, जानिए इस खबर में

BIRTHDAY SPECIAL: जानिए अमिताभ बच्चन से जुड़ीं 20 स्पेशल बातें

BIRTHDAY SPECIAL: जानिए अमिताभ बच्चन से जुड़ीं 20 स्पेशल बातें

यश, कीर्ति और शोहरत की बुलंदियों पर बैठे अमिताभ बच्चन की जिंदगी से जुड़ी 10 ऐसी बातें वनइंडिया आपको बता रहा है जिनके बारे में आपने शायद ही पहले कभी सुना, पढ़ा या देखा होगा।

पढ़ें-भारतीय सेना से आतंकियों को बचाने के लिए ऐसे मदद कर रही पाक सेना

सोशल मीडिया पर जबरदस्‍त फैन फॉलोइंग

सोशल मीडिया पर जबरदस्‍त फैन फॉलोइंग

मशहूर कवि रहे हरिवंशराय बच्चन से जन्मे अमिताभ बच्चन की रियल वर्ल्‍ड से लेकर सोशल मीडिया तक जबरदस्त फैन फॉलोइंग है। 70 के दशक में दीवार और जंजीर जैसी सुपरहिट फिल्में देने वाले अमिताभ ने हाल ही में 'पिंक' फिल्म में अभिनय किया, जिसमें कि उनके अभिनय की खूब सराहना हो रही है।

रेखा के साथ अफेयर की रही चर्चा

रेखा के साथ अफेयर की रही चर्चा

अमिताभ बच्चन अभिनेत्री रेखा के साथ अफेयर को लेकर भी चर्चाओं में रहे। उन दोनों के इश्क की खबरें कई दिनों तक चलीं। यहां तक कि कुछ लोगों को अब भी यकीन है कि अमिताभ रेखा से आज भी चुपचाप मिलते हैं।

VIDEO: सुपरमैन की तरह फील्डिंग है इस क्रिकेट ऑलराउंडर की, देखिए

जबकि रेखा ने कई इंटरव्यू में साफतौर पर कहा कि वह अमिताभ बच्चन की दीवानी हैं लेकिन अमिताभ ने कभी रेखा का नाम सार्वजनिक मंच पर नहीं लिया। इन दोनों ने खून पसीना, सुहाग और सिलसिला आदि फिल्मों में एक साथ ​अभिनय भी किया। इन दोनों ने फिल्म 'सिलसिला' में आखिरी बार एकसाथ अभिनय किया।

800 रुपए मिली थी पहली सैलरी

800 रुपए मिली थी पहली सैलरी

कॅरियर के शुरुआती दिनों में अमिताभ बच्चन ने आकाशवाणी में भी बतौर अनाउंसर काम करने के लिए आवेदन किया लेकिन वहां उन्हें खारिज कर दिया गया। उन्होंने कोलकाता में सुपरवाइजर के रूप में कॅरियर शुरू किया और उस वक्त उन्हें तनख्वाह के रूप में प्रतिमाह 800 रुपए मिलते थे। दिलीप कुमार उनके पसंदीदा अभिनेता और आशा पारेख उनकी पसंदीदा अभिनेत्री हैं।

20 फ्लॉप के बाद पहली हिट

20 फ्लॉप के बाद पहली हिट

1969 में आई ख्वाजा अहमद अब्बास की फिल्म 'सात हिंदुस्तानी' में उन्हें पहली बार अभिनय का मौका मिला। हालांकि, यह फिल्म सफल नहीं हुई थी। जंजीर सुपरहिट होने से पहले तक अमिताभ बच्चन ने 20 फ्लॉप फिल्में दीं। यह फिल्म उनके कॅरियर में अहम पड़ाव साबित हुई और उन्हें उस दौर के अच्छे अभिनेताओं में गिना जाने लगा।

इसी के बाद से उन्हें 'एंग्री यंग मैन' की उपाधि भी मिली थी। इसके बाद अमिताभ बच्चन ने रुकने का नाम नहीं लिया और 1975 में यश चोपड़ा निर्देशित फिल्म 'दीवार', रमेश सिप्पी निर्देशित 'शोले' के बाद वह इंडस्ट्री के सुपरस्टार बन गए।

पद्मश्री और पद्मभूषण से सम्‍मानित

पद्मश्री और पद्मभूषण से सम्‍मानित

वर्ष 1984 में अमिताभ बच्चन को पद्मश्री से सम्मानित किया गया। भारतीय सिनेमा में योगदान के लिए उन्हें 2001 में पद्म भूषण से भी नवाजा गया।

पढ़ें-इंदौर टेस्ट के तीसरे दिन बने ये 5 बहुत ही अहम क्रिकेट रिकॉर्ड

कुल 7 फिल्मफेयर अवॉर्ड मिले

कुल 7 फिल्मफेयर अवॉर्ड मिले

अमिताभ बच्चन को अपने पूरे जीवन में कुल 7 फिल्मफेयर अवॉर्ड मिले। उन्होंने अभिनय के साथ ही कई फिल्मों में गीत भी गाए हैं। 1979 में बनी फिल्म 'मेरे पास आओ मेरे दोस्तों' में पहली बार अमिताभ ने गाना गाया था।

राजनीति से भी रहा ताल्‍लुक

राजनीति से भी रहा ताल्‍लुक

अमिताभ बच्चन का राजनीति से भी वास्ता रहा। पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के दोस्त माने जाने वाले अमिताभ ने उन्हीं के कहने पर राजनीति में कदम रखा और इलाहाबाद से सांसद भी बने। लेकिन राजनीति उन्हें रास नहीं आई और तीन वर्षों के बाद ही उन्होंने इस्तीफा दे दिया।

इलाहाबाद से चुने गए सांसद

इलाहाबाद से चुने गए सांसद

साल 1984 मे अपने मित्र राजीव गांधी के आग्रह पर उन्होंने राजनीति में प्रवेश किया और इलाहाबाद से सांसद का चुनाव लड़े तथा सांसद के रूप में चुन लिये गये लेकिन अमिताभ बच्चन को अधिक दिनों तक राजनीति रास नहीं आई और तीन वर्ष तक काम करने के बाद उन्होंने सांसद के पद से इस्तीफा दे दिया। इसकी मुख्य वजह यह थी कि उनका नाम उस समय बोफोर्स घोटाले में खींचा जा रहा था।

विवादों से रहा लंबा नाता

विवादों से रहा लंबा नाता

1984 के सिख दंगों में भी अमिताभ बच्चन का नाम विवादों में रहा। उनपर सिखों के खिलाफ भड़काने का आरोप लगा। इसके अलावा बोफोर्स घोटाले में भी उनकी भूमिका संदिग्ध रही। इसके साथ ही हाल ही में पनामा पेपर्स लीक में भी उनका नाम सामने आया था।

रेखा-जया नहीं थी पहला प्‍यार

रेखा-जया नहीं थी पहला प्‍यार

अमिताभ के एक करीबी दोस्त ने खुलासा किया कि जया या रेखा उनका पहला प्यार नहीं थीं। शहंशाह का दिल जिस लड़की पर सबसे पहली बार आया, वह एक ब्रिटिश कंपनी में काम करने वाले महाराष्ट्र की लड़की 'चंद्रा'(बदला हुआ नाम) थी।

दिलीप कुमार के साथ किया काम

दिलीप कुमार के साथ किया काम

अमिताभ बच्‍चन और दिलीप कुमार ने एक साथ ब्‍लैकर एंड कंपनी में तीन वर्षों तक काम किया है। अमिताभ आैर चंद्रा कोलकाता में एक साथ काम करते थे। अमिताभ चंद्रा से शादी करना चाहते थे लेकिन उसने मना कर दिया और उसी के बाद अमिताभ कोलकाता छोड़कर मुंबई चले गए। इसी वजह से उनकी 26 दिनों की सैलरी भी काट ली गई थी।

रोज पीते थे 200 सिगरेट

रोज पीते थे 200 सिगरेट

अमिताभ बच्‍चन अपने जवानी के दिनों में हर रोज तकरीबन 200 सिगरेट पी जाते थे। इसके साथ ही वह शराब का भी खूब सेवन करते थे। हालांकि, बीते कुछ वर्षों से उन्‍होंने यह सब पूरी तरह छोड़ दिया है। वह अब शुद्ध शाकाहारी हैं।

'कुली' में पसली में चोट

'कुली' में पसली में चोट

1982 में अमिताभ बच्‍चन को मनमोहन देसाई की फिल्‍म 'कुली' में पसली में चोट लग गई थी। इस चोट का दर्द उनके अब भी रह-रहकर उठता है।

यौन शोषण का आरोप लगा

यौन शोषण का आरोप लगा

फिल्‍म 'ट्रेन' में अभिनय करने वाली अभिनेत्री सयाली भगत ने अमिताभ बच्‍चन पर यौन शोषण का आरोप लगाया था।

VIDEO: अपनी 2 साल पुरानी कहानी सुनाते हुए रो पड़ीं दीपिका पादुकोण, देखिए क्‍यों

पेन-घड़ी के हैं शौकीन

पेन-घड़ी के हैं शौकीन

अमिताभ बच्‍चन को कलम इकट्ठा करने का शौक है और उन्‍होंंने अबतक 1 हजार से भी अधिक पेन इकट्ठा कर लिए हैं। इसके साथ ही घड़ी का भी उन्‍हें काफी शौक है। एक बार पहनी हुई घड़ी को वह दोबारा नहीं पहनते हैं।

इन्‍होंने की स्‍ट्रगल डेज़़ में मदद

इन्‍होंने की स्‍ट्रगल डेज़़ में मदद

संघर्ष के दिनों में संगीतकार कल्‍याणजी-आनंदजी ने अमिताभ बच्‍चन की खूब मदद की। वह उन दिनों कई रातें मुंबई के मरीन ड्राइव किनारे बेंच पर सो जाया करते थे।

दोनों हाथों से एकसाथ लिख लेते हैं

दोनों हाथों से एकसाथ लिख लेते हैं

अमिताभ बच्‍चन इंजीनियर बनने की ख्‍वाहिश रखते थे और इंडियन एयरफोर्ड जॉइन करने के इच्‍छुक थे। अमिताभ बच्‍चन दोनों हाथों से एकसाथ लिख लेते हैं।

2400 करोड़ की संपत्ति के मालिक

2400 करोड़ की संपत्ति के मालिक

2400 करोड़ की संपत्ति के मालिक अमिताभ बच्‍चन के पास 11 लग्‍जरी कार हैं और हर कार के एक पहिए की औसतन कीमत ढाई लाख रुपए है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Birthday Special: Amitabh Bachchan turns 74 today and here we have a list of some interesting facts about our very own Big B.
Please Wait while comments are loading...