विरोध के बाद बंद हुई महात्मा गांधी की तस्वीर वाली चप्पल की बिक्री

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। ऑनलाइन शॉपिंग साइट अमैजन ने भारी विरोध के बाद महात्मा गांधी की तस्वीर नाली चप्पल को वापस ले लिया है। इससे पहले अमैजन पर तिरंगे वाली डोरमैट बिक रही थी जिसपर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने विरोध दर्ज कराया था, विदेश मंत्रालय के विरोध के बाद उस डोरमैट को भी वापस ले लिया गया था। तिरंगे वाली डोरमैट के बाद अमैजन पर बापू की तस्वीर वाली चप्पलें बिक रही थी जिसका सोशल मीडिया पर काफी विरोध हो रहा था।

amazon

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने अपने बयान में कहा कि हम अमैजन के दिल्ली और वऑशिंगटन दोनों ही जगहों पर संपर्क में थे , हमारे बीच सकारात्मक बातचीत हुई। मैं इस बात को आपके साथ साझा करते हुए खुश हूं कि अमैजन ने विवाद वस्तुओं को अपनी साइट से हटा लिया है और हमें उम्मीद है कि भविष्य में भी हमारे बीच सकारात्मक बातचीत होती रहेगी। आपके बता दें कि इसी महीने की शुरुआत में कनाडा अमैजन ने तिरंगे के रंग की डोर मैट की बिक्री शुरु की थी, जिसे दो व्यापारी मुहैया करा रहे थे जिनके नाम थे मेयर्स फ्लैग डोरमैट और एक्सएलवाईएल।

इस डोरमैट की तस्वीरें जब सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो सुषमा स्वराज ने ट्विटर के जरिए कनाडा में कंपनी को सख्त चेतावनी दी थी कि इन डोरमैट को तुरंत वापस लिया जाए नहीं तो वह कंपनी के तमाम कर्मचारियों का भारत में वीजा रद्द कर देंगी और कंपनी के कर्मचारियों को भारत आने का वीजा नहीं दिया जाएगा, सुषमा स्वराज की चेतावनी के बाद कंपनी ने इन डोरमैट को वापस ले लिया था। सुषमा स्वराज ने कहा था कि अगर कंपनी ने बिना शर्त मांफी नहीं मांगी तो हम सख्त कार्रवाई करेंगे। जिसके बाद अमैजन ने सुषमा स्वराज को दिए अपने बयान में अफसोस जताते हुए कहा था कि भारतीयों की भावनाएं आहत हुई इसके लिए हमें खेद है।

इसे भी पढ़ें- अमेजन की वेबसाइट पर बिक रही महात्मा गांधी की तस्वीर वाली चप्पल 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Amazon pulls back offensive flip flop after protest. Earlier company was in news for selling tricolor flag.
Please Wait while comments are loading...