अमर सिंह बोले- अपमान का स्तर सहनशीलता की सीमा से अधिक हो गया है

अमर सिंह ने कहा- मैं उन्हें चोट नहीं पहुंचाना चाहता, लेकिन अब अपमान की सहनशीलता की सीमा के स्तर के ऊपर बात हो गई।

Subscribe to Oneindia Hindi

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के भीतर मचे घमासान के बाद अखिलेश यादव ने अमर सिंह को बाहरी करार दिया था। आपको बता दें कि अमर सिंह ने कालाधन, भ्रष्टाचार और फर्जी करंसी से निपटने के लिए नोटबंदी जैसे कदम के लिए पीएम मोदी की तारीफ की थी।

amar singh

भारतीय सेना ने दिया ऐसा जवाब कि 4 दिनों से सीमा पर फायरिंग बंद: रक्षामंत्री

अमर सिंह ने कहा है कि उन्हें बहुत ही दुख हुआ है और वह मुलायम सिंह से बात करेंगे। वे बोले- मुलायम जी वह शख्स हैं जो पूरी जनता के सामने भी अपने बेटे के खिलाफ मेरे साथ खड़े थे।

उन्होंने कहा- मैं उन्हें चोट नहीं पहुंचाना चाहता, लेकिन अब अपमान की सहनशीलता की सीमा के स्तर के ऊपर बात हो गई। पार्टी का अगर व्हिप होगा, तो अगर मुझे वोट नहीं देना होगा तो मैं राज्य सभा की सदस्यता छोड़ दूंगा। अगर मुझे राज्य सभा की सदस्यता से मोह होगा, तो मैं नोटबंदी के खिलाफ व्हिप दूंगा, ताकि मेरी सदस्यता नहीं जाए।

नाभा जेलब्रेक के बाद उत्तराखंड, हिमाचल में हाई अलर्ट, सुरक्षा सख्त

समाजवादी पार्टी के नरेश अग्रवाल पर भी अमर सिंह ने निशाना साधा और बोले- पार्टी ने कहा गोला बनाओ सरकार के विरोध में, मैं गोले में खड़ा हो गया। नरेश अग्रवाल ने आदेश दिया था पंक्तिबद्ध होकर खड़े होने का।

उन्होंने कहा है कि वह कोई गुलाम नहीं है, उनकी अपनी राय भी है। उन्होंने उस बयान की आलोचना की कि नोटबंदी का फैसला उत्तर प्रदेश के चुनाव को देखते हुए लिया गया है।

नाभा जेलब्रेक: भारी मात्रा में हथियार के साथ UP में हुई पहली गिरफ्तारी, संदिग्ध गाड़ी बरामद

कल यानी सोमवार को अमर सिंह मुलायम सिंह से मुलाकात करेंगे और अपना दर्द बयां करेंगे। उन्होंने कहा कि वह ऐसा कुछ भी नहीं करेंगे, जिससे सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह का दिल दुखे। वह जो भी फैसला करेंगे, अमर सिंह उसका पालन करेंगे।

 

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
amar singh will meet mulayam singh and tell his pain
Please Wait while comments are loading...