बोले अमर सिंह- 'हम विमुद्रीकरण के खिलाफ नहीं लेकिन तरीका गलत'

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी के महासचिव और राज्यसभा के सांसद अमर सिंह ने विमुद्रीकरण के मुद्दे पर टिप्पणी की है।

अमर सिंह ने कहा है कि 'हम विमुद्रीकरण के खिलाफ नहीं है लेकिन जिस तरह से इसे लागू किया गया है, हम उसके खिलाफ हैं।'

amar singh

इससे पहले एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें अमर सिंह के बगल खड़े एक शख्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 500 और 1,000 की करेंसी बंद करने पर भद्दी भद्दी गालियां दी थी। हालांकि वीडियो में अमर सिंह सिर्फ मुस्कुरा रहे थे।

जब तक जिंदा रही तो बंद नोट, शव देने के लिए मांगे नए नोट

पीएम मोदी ने कहा था...

गौरतलब है कि 8 नवंबर को राष्ट्र के नाम संदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह घोषणा की थी कि 500 और 1,000 रुपए के पुराने नोट बंद कर दिए जाएंगे।

एक करोड़ 37 लाख रुपए से भरी कैश वैन लेकर ड्राइवर फरार

साथ ही कहा था कि 500 और 2,000 रुपए के नए नोट बाजार में आएंगे। पीएम की इस घोषणा के बाद से ही देश में अफरातफरी का माहौल है।

पीएम ने कहा था कि इस फैसले से आतंकवाद और कालेधन पर लगाम लगेगी। हालांकि विपक्ष इस फैसले का कड़ा विरोध कर रहा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जहां विधानसभा का आपात सत्र बुलाकर सदन में विमुद्रीकरण के फैसले के खिलाफ प्रस्ताव दिया था वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि ये फैसला जनविरोधी है।

मुलायम ने कहा था...

'सोशलिस्टों का यह तकाजा, 100 से कम ना 1000 से ज्यादा' को समाजवादियों का पुराना नारा बताते हुए सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह ने कहा था कि वो हमेशा से कालेधन के खिलाफ रहे हैं लेकिन अचानक बड़े नोट पर बैन ने जनता को हलकान कर दिया है। इसलिए इस फैसले को वापस लिया जाए।

नोट बंदी: उद्धव को मनाने में जुटी भाजपा, गडकरी ने की मुलाकात

उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार के 1000 और 500 के नोट पर बैन को वापस लेने की मांग कीहैं। उन्होंने कहा कि इससे आम जनता एकदम से परेशानी में आ गई है।

मुलायम ने कहा था कि 1000 और 500 के नोट पर बैन लगाया जाए लेकिन इससे पहले जनता को कुछ समय दिया जाए। उन्होंने कहा कि ऐसा फैसला आपाधापी में नहीं लिए जाते।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Amar Singh said, We are not against DeMonetisation, but just against the way they implemented it.
Please Wait while comments are loading...