नोटबंदी पर अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के खिलाफ अमर सिंह ने खोला मोर्चा

Written By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी में जिस तरह से अमर सिंह को लेकर जमकर बवाल हुआ उसमें अमर सिंह पर कई आरोप लगे, यही नहीं अखिलेश यादव ने उन्हें खुले मंच पर बाहरी करार देते हुए कई आरोप लगाए।

amar singh

अमर सिंह बोले- अपमान का स्तर सहनशीलता की सीमा से अधिक हो गया है

लेकिन अपने उपर लगे आरोपों के बाद अमर सिंह अब पलटवार करने के मूड में नजर आ रहे हैं। इसकी शुरुआत उन्होंने पार्टी के शीर्ष नेताओं को निशाना बनाने से की है। उन्होंने नोटबंदी के फैसले के बाद अपनी ही पार्टी के शीर्ष नेताओं के इस मुद्दे पर बयान से नाराजगी जतायी है।

मुलायम सिंह से मुलाकात के बाद सपा छोड़ सकते हैं अमर सिंह

मुलायम सिंह से जताई नाराजगी

अमर सिंह ने अपना नाराजगी सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव से जतायी है। इससे पहले अमर सिंह ने कहा था कि वह वरिष्ठ नेताओं के बयान से दुखी हैं। उन्होंने कहा कि मैं मुलायम सिंह को चोट नहीं पहुंचाना चाहता हूं।

छोड़ दुंगा राज्यसभा की सदस्यता

अमर सिंह ने कहा कि सहनशीलता की सीमा होती है और वह अपने स्तर से उपर चली गई है। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी व्हिप जारी करती है तो मैं वोट नहीं कर सकता हूं ऐस में मैं राज्यसभा की सदस्यता छोड़ दुंगा।

पीएम के फैसले का समर्थन

इससे पहले अमर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले का समर्थन किया था। उन्होंने इस बयान की भी आलोचना की कि नोटबंदी का फैसला यूपी चुनाव को देखते हुए लिया गया है।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Amar Singh openly differs from his party over demonetisation. He says I am unhappy with my party's senior leader statement.
Please Wait while comments are loading...