RBI ने बताया 50 दिन में बदले जाएंगे 500-1,000 के नोट

500 और 1,000 के नोट एक्सचेंज करने पर भारतीय रिजर्व बैंक ने सलाह दी है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि 500 और 1,000 रुपए की मुद्रा के विमुद्रीकरण के बाद नई करेंसी को पूरे देश में वितरित करने के लिए बैंक व्यवस्था बना रहा है।

कहा गया कि बैंकों में पर्याप्त नकद मौजूद है साथ ही पूरे देश में नोट पहुंचे इसकी सारी व्यवस्था की गई है।

बकौल आरबीआई बैंक शाखाएं 10 नवंबर से ही पुराने नोटों को नए नोट से एक्सचेंज कर रही हैं।

अंदर के आदमी ने लीक की थी 2000 रुपए की तस्वीर, जांच शुरू

RBI

2,000 रुपए निकाल सकते हैं

कहा गया कि जब एटीएम काम करने लगेगा तो जनता 2,000 रुपए तक प्रति कार्ड और प्रतिदिन 18 नवंबर तक निकाल सकते हैं। हालांकि अभी यह जानकारी नहीं दी गई है कि 18 नवंबर के बाद एटीएम से कितनी धनराशि निकाले जाने की अनुमति मिलेगी।

बताया गया कि नोटों को एक्सचेंज करने की व्यवस्था 50 दिनों तक जारी रहेगी। आरबीआई ने अपील की है कि जनता धैर्य रखे और 30 दिसंबर के पहले अपनी पुरानी नोट बदलवा लें।

अखिलेश ने लिखा पत्र: मोदी जी प्‍लीज 30 नवंबर तक चलने दें पुराने नोट, लोगों को हो रही है दिक्‍कत

बता दें कि 8 नवंबर को राष्ट्र के नाम संदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की थी कि 500-1,000 के नोट अवैध माने जाएंगे।

उनका कहना था कि ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि कालेधन और आतंकियों की फंडिंग पर रोक लगाई जा सके। उन्होंने जनता से अपील की थी कि वो शुचिता के इस कार्यक्रम में अपनी सहभागिता सुनिश्चित कराएं।

हालांकि उनके इस फैसले का विपक्ष बड़े स्तर पर विरोध कर रहा है। बकौल विपक्ष सरकार के इस फैसले से गरीबों, किसानों और गृहणियों को काफी दिक्कत हो रही है।

आरबीआई ने भी दी थी यह जानकारी

उसी दिन आरबीआई की ओर से एक प्रेस वार्ता में जानकारी दी गई थी कि 500 और 2,000 रुपए के नए नोट बाजार में आ रहे हैं।

बीते 10 नवंबर से बैंकों की ओर से पुराने के बदले नए नोटों को बदलने का काम शुरू कर दिया गया है। हालांकि लंबी लाइनों और कई क्षेत्रों में अब तक एटीएम न चलने के कारण लोगों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After DeMonetisation of existing ₹500 1000 notes, RBI made arrangements to distribute notes in new denominations across the country: RBI
Please Wait while comments are loading...