7 साल बाद सोनिया गांधी ने दिया इंटरव्यू, कहा-इंदिरा और मोदी में कोई तुलना ही नहीं

By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने 7 बाद किसी मीडिया हाउस को इंटरव्यू दिया है। सोनिया ने इंडिया टुडे के वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई के साथ बातचीत की। इस इंटरव्यू के दौरान सोनिया ने अपने राजनीतिक अनुभव को साझा किया और कहा कि वक्त के साथ राजनीति बदल जाती है। उसके चेहरे बदल जाते हैं। सोनिया ने कहा कि फिलहाल कांग्रेस को किसी भी बदलाव की जरुरत नहीं है।

sonia gandhi

जब उनसे पूछा गया कि लोग चाहते हैं कि कांग्रेस में एक बार फिर से इंदिरा गांधी जैसा नेतृत्व हो तो उन्होंने कहा कि वक्त के साथ राजनीति की चुनौतियां बदल जाती है और नेतृत्व के चेहरे भी। वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और इंदिरा गांधी की तुलना के सवाल पर उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी से मोदी की कोई तुलना ही नहीं है। सोनिया ने कहा कि इंदिरा गांधी को आम लोगों से सहानुभूति थी।

लेकिन आज के नेताओं में ऐसा नहीं होता। उन्होंने इंदिरा के राजनीतिक सफर की चर्चा करते हुए कहा कि वो कांग्रेस अध्यक्ष बनीं, फिर पीएम बनीं। पीएम बनने के बाद उनका मजाक उड़ाया गया। उन्हें अपमानित किया गया। अपने ही पार्टी के लोग विरोधी हो गए, लेकिन इंदिरा अडिग रहीं। उन्होंने हार नहीं मानी,और जीत हासिल की।

परिवारवाद के सवाल पर सोनिया ने कहा कि जवाहर लाल नेहरू जनता के नेता थे और इंदिरा गांधी लोकतांत्रिक तरीके से चुनकर आई थीं। उन्होंने इंदिरा के साथ अपनी पहली मुलाकात के बारे में भी बात की। सोनिया ने बताया कि इंदिरा गांधी से उनकी पहली मुलाकात लंदन में हुई थी।

सोनिया ने बताया कि राजीव गांधी के साथ नजदीकियों की खबरें आने के बाद इंदिरा ने खुद उनसे पूछा था कि क्या वो राजीव से शादी करना चाहती है। सोनिया गांधी ने कहा कि वो नहीं चाहतीं थी कि राजीव राजनीति में आएं। वो खुद भी राजनीति से दूर रहना चाहती थीं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Congress chairperson Sonia Gandhi said in her interview that there’s absolutely no comparison between Modi and Indira Gandhi.
Please Wait while comments are loading...