गोरखपुर हादसा: इंसानियत के लिए आगे आए ये मोदी, फ्री में दिए सिलेंडर

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

गोरखपुर। इन दिनों बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में 2 दिन में 30 बच्चों की मौत हो जाने से पूरे देश में हंगामा मचा है। कहा जा रहा है कि इन बच्चों की मौत का कारण अस्पताल में ऑक्सीजन के सिलेंडर खत्म होना है। इसी को लेकर चल रहे आरोप-प्रत्यारोप के बीच एक व्यक्ति ने आगे बढ़कर मदद करने का अहम कदम उठाया है। गोरखपुर की ही एक निजी कंपनी मोदी केमिकल प्राइवेट लिमिटेड ने यह मदद की है।

दिए 200 सिलेंडर

दिए 200 सिलेंडर

मोदी केमिकल के मालिक प्रवीण मोदी ने ऐसा काम किया है, जिससे लोगों का भरोसा इंसानियत पर कायम रहे। मोदी केमिकल ने इस अस्पताल को बिना एक भी पैसे लिए ऑक्सीजन के करीब 200 सिलेंडर सप्लाई किए हैं। आपको बता दें कि इससे पहले भी यह कंपनी बीआरडी अस्पताल को ऑक्सीजन सिलेंडर सप्लाई करती थी, लेकिन इसी साल मार्च में अस्पताल ने मोदी केमिकल से अपना कॉन्ट्रैक्ट खत्म कर दिया था।

इंसानियत के नाते दिए सिलेंडर

इंसानियत के नाते दिए सिलेंडर

एएनआई से बातचीत में प्रवीण ने कहा कि जब उन्हें यह पता चला कि बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी हो गई है और इसकी वजह से बच्चों की मौत हो रही है तो उन्होंने इंसानियत के नाते करीब 200-300 सिलेंडर सप्लाई कर दिए। यहां आपको बताते चलें कि कंपनी पर प्रवीण मोदी के करीब 20 लाख रुपए अभी भी बकाया हैं, बावजूद इसके उन्होंने मदद की है।

क्या है मामला?

क्या है मामला?

शुक्रवार को यह खबर सामने आई कि करीब 48 घंटे के अंदर ही बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी की वजह से करीब 30 बच्चों की मौत हो गई है। 7 अगस्त से 11 अगस्त के बीच यानी 5 दिनों में अस्पताल में करीब 60 मौतें हो चुकी हैं। यहां चौंकाने वाली बात है कि अस्पताल को सिलेंडर सप्लाई करने वाली कंपनी पुष्पा सेल्स ने बकाया भुगतान न करने पर सिलेंडर सप्लाई रोके जाने के लिए पहले ही पत्र भेजकर सूचना दे दी थी, लेकिन उसके बावजूद अस्पताल ने कोई कदम नहीं उठाया।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
a private company supplies more than 200 oxygen cylinders to BRD hospital
Please Wait while comments are loading...