सर्वे: 82 प्रतिशत लोगों ने किया नोटबंदी का समर्थन, बताया देशहित का कदम

इनशॉर्ट्स और इप्सॉस की ओर से कराए गए सर्वे में 82 प्रतिशत लोगों ने नोटबंदी का समर्थन किया है।

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। नोटबंदी के कारण भले ही लोग आपको बैंकों और एटीएम के सामने लंबी-लंबी लाइनों में दिखाई दें लेकिन इनशॉर्ट्स और इप्सॉस की ओर से कराए गए सर्वे में कुछ और ही कहानी निकल कर सामने आई है।

नोटबंदी से किसे फायदा किसे नुकसान, कहां लगी आग, कौन हुआ खाक?

इस सर्वे के मुताबिक 82 प्रतिशत लोगों ने नोटबंदी का समर्थन किया है तो वहीं 84 फीसदी लोगों का मानना है कि सरकार काले धन पर रोक लगाने के लिए गंभीर है। मालूम हो कि ये सर्वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा के तत्काल बाद यानी कि  8 और 9 नवंबर को किया गया था,  इस सर्वे में 2,69,393 लोगों ने एप के जरिए भाग लिया।

ATM पर आज से मिलेंगे 2000 के नोट, RBI ने किया बड़ा ऐलान

आपको बता दें कि इनशॉर्ट्स इस समय भारत का सबसे ज्यादा डाउनलोड किया जाने वाला एप है, इस सर्वे का अध्ययन इकोनॉमी शोधकर्ताओं ने किया। इस सर्वे का नाम 'पल्स ऑफ नेशन' था।

RBI ने दिए थे 100 रुपये अलग एटीएम लगाने के निर्देश, क्या बैंकों ने की आदेश की अनदेखी?

सर्वे का रिजल्ट इंगित करता है कि भले ही देश के आम लोगों को नोटबंदी के कारण परेशानी और असुविधा में हो रही हो लेकिन वो सभी देशहित के इस फैसले में मोदी सरकार के साथ है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
As many as 82 per cent Indians favour the government's decision to demonetise Rs 500 and Rs 1,000 denomination currency notes, a survey has said.
Please Wait while comments are loading...