सूरत के कारोबारी पीपी सावानी परिवार ने किया 236 लड़कियों का विवाह

Subscribe to Oneindia Hindi

सूरत। भारतीय समाज में आज भी जिन लड़कियों के पिता या माता नहीं होते हैं, उनकी शादी में बड़ी दिक्‍कत आती है। पर अगर ऐसी ही बिन माता-पिता की लड़कियों को अगर कोई ऐसा अभिभावक मिल जाए जो उनकी अभिभावक की भूमिका निभाकर उनकी शादी को संपन्‍न करवा दें, तो इससे ज्‍यादा खुशी की बात कोई नहीं हो सकती है। सूरत के भी एक कारोबारी ने ऐसी ही मिसाइल पेश करते हुए 236 ऐसी लड़कियों का विवाह करवाया है जिन सभी के पिता का देहांत हो चुका था। सूरत की एक कारोबारी ने 236 युवतियों के लिए बीते सोमवार को सामूहिक विवाह का आयोजन किया था। इस सामूहिक विवाह समारोह में उन युवतियों का विवाह कराया गया जिन लड़कियों के पिता नहीं हैं।

सूरत के कारोबारी पीपी सावानी परिवार ने किया 236 लड़कियों का विवाह

पीपी सावनी समूह की तरफ से आयोजित इस सामूहिक विवाह समारोह में 236 युवतियों में से पांच मुस्लिम और एक ईसाई थी। वहीं पीपी सावनी परिवार से दो लड़कों ने भी इस सामूहिक शादी समारोह में विवाह किया। सावनी ग्रुप के महेश सावनी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि इस तरह का सामूहिक विवाह आयोजित कर मुझे खुशी है और यह मेरे लिए गर्व की भी बात है। उन्‍होंने बताया कि इस सामूहिक विवाह समारोह में मेरे बेटे मितुल और मेरे चचेरे भाई जय ने भी इस समारोह में विवाह किया। उन्होंने बताया कि 236 युवतियों में से पांच महाराष्ट्र से, 3 राजस्थान से, एक बिहार से और अन्‍य सभी गुजरात से हैं। पीवी सावानी समूह पहले भी सामूहिक विवाह करवाता रहा है। इससे पहले वर्ष 2012 में 22, 2013 में 53, वर्ष 2014 में 111 और वर्ष 2015 में 151 लड़कियों की शादी की थी। पीपी सावानी समूह अभी तक 708 लड़कियों की शादी करवा चुका है। इसके अलावा पीपी सावानी समूह ने एक साथ 700 लड़कियों के मेंहदी लगाए जाने को लेकर रिकॉर्ड बनाने का दावा भी किया है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
236 fatherless girls to be married off by pp savani family
Please Wait while comments are loading...