22 साल के शख्स ने हैक की सबसे बड़े बैंक की वेबसाइट, कारण जान के चौंक जाएंगे आप

एक बिल्डिंग के बेसमेंट में 5 प्रोफेशनल्स अपने लैपटॉप में जुटे हुए हैं, इनकी कोशिश एक बड़े बैंक की वेबसाइट को हैक करने की है। इनके बीच रेस जारी है। फिर क्या हुआ पढ़िए...

Subscribe to Oneindia Hindi

गुरुग्राम (हरियाणा)। साइबर सिटी गुरुग्राम में बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां कुछ युवाओं के एक ग्रुप ने बैंक की साइट हैक करने के लिए कंपटीशन किया। कमाल की बात ये है कि महज कुछ ही घंटों में 22 वर्षीय एक शख्स ने देश के सबसे बड़े बैंक की वेबसाइट हैक कर ली। गुरुग्राम में एक बिल्डिंग के बेसमेंट में बैठकर इस शख्स ने जिस तरह से कुछ ही घंटे में बैंक की वेबसाइट को हैक किया इससे पता चल जाता है कि आखिर बैंकों की नेटवर्किंग में सुरक्षा की स्थिति क्या है? हालांकि इन प्रोफेशनल्स का इरादा बैंक की वेबसाइट हैक करके उसे नुकसान पहुंचाना नहीं था। दरअसल ये प्रोफेशनल्स ये जताना चाहते थे कि कोई गलत इरादे वाले हैकर्स किसी साइट को हैक करने के लिए समय का इंतजार नहीं करते हैं। उन्हें तो बस मौका चाहिए। ये पूरी कवायद ये बताने के लिए की गई कि साइबर सुरक्षा की जरूरत बैंकों को कितनी ज्यादा है।

बेसमेंट से महज 3 घंटे में 22 वर्षीय शख्स ने हैक की बैंक की वेबसाइट

बैंक की वेबसाइट हैक करने में जुटे थे प्रोफेशनल्स

चलिए अब आपको इस पूरी कवायद के हर रुप को पेश करते हैं। गुरुग्राम में एक बिल्डिंग के बेसमेंट में कुछ युवा एक बड़ी सी टेबल पर बैठे हैं। इन प्रोफेशनल्स की संख्या 5 है। सभी अपने लैपटॉप में जुटे हुए हैं, ये कुछ खोजने की कोशिश कर रहे हैं, इनकी कोशिश एक बड़े बैंक की वेबसाइट को हैक करने की है। इनके बीच रेस जारी है। अगर ये इस बैंक के सुरक्षा चक्र को तोड़ने में कामयाब हुए और इस साइट को हैक कर गए तो हजारों ग्राहकों को करोड़ों का नुकसान कर सकते हैं। अगर इनकी योजना सफल रही तो सोचिए उस बैंक का सारा डाटा इनके पास पहुंच सकता है। हालांकि आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि ये नैतिक हैकर्स ग्रुप है। एनडीटीवी में छपी खबर के मुताबिक इस हैकर्स ग्रुप को बैंक की ऑनलाइन सुरक्षा को मजबूत करने के लिए चुना गया है। ये लोग बैंक को ऑनलाइन फ्रॉड से बचाने के लिए काम करते हैं। इन युवाओं को बैंकिंग वेबसाइट की सुरक्षा को मजबूती देने और ऑनलाइन सेक्युरिटी को मजबूती देने के लिए चुना गया है। पांचों युवा अपने काम जुटे हुए हैं इसी बीच में उनमें सबसे कम उम्र के युवा जिसकी उम्र करीब 22 वर्ष होगी उसे बैंक का राउटर हैक करने में कामयाबी मिल जाती है। अब ये शख्स महज कुछ घंटे में बैंक को करोड़ों का चुना लगाने में सक्षम है।

22 वर्षीय इस शख्स का नाम हरजीत उर्फ हैरी है जिसने बताया कि बैंक का राउटर उसके कंट्रोल में है। अब मैं जिस ग्राहक को चाहूं उसके अनुरोध को किसी भी फर्जी साइट पर निर्देशित कर सकता हूं। उनके लॉग इन और पासवर्ड को बदल सकता हूं। हैरी की इस कामयाबी पर सभी युवा खुश होते हैं। संस्था बग्सबाउंटी के संस्थापक अंकुश जौहरी ने बताया कि कंपनियां हमारे प्रोफेसनल्स को अपनी कंपनी की साइट को हैक करने के लिए चुनते हैं। उनका काम यही होता है कि उस साइट को हैक करें जिससे उन्हें जरूरी सुरक्षा मुहैया कराया जा सके। ऐसा इसलिए क्योंकि कोई भी हैकर कभी किसी साइट को हैक करने के लिए आमंत्रण का इंतजार नहीं करेगा। यही वजह है कि रोजाना कई वेबसाइट हैक होती हैं। ऐसे में हमारे प्रोफेसनल्स कंपनियों के कंपनियों के वेब सिस्टम को और मजबती देने की कोशिश करते हैं। जिससे कि हैकिंग से बचा जा सके।
इसे भी पढ़ें:- हैकिंग की वजह से अमेरिका ने रूस पर लगाए नए प्रतिबंध, 35 राजनयिकों को निकाला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
22 Year Old Hacks Bank Site In Three Hours in basement at gurugram.
Please Wait while comments are loading...