जम्मू-कश्मीर में 200 आतंकी हैं एक्टिव, 105 इसी साल घुसे हैं भारत में

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। बुधवार को सरकार ने संसद को बताया कि करीब 200 आतंकी जम्मू-कश्मीर में एक्टिव हैं, जिनमें से 105 आतंकी पाकिस्तान से भारत में इसी साल दाखिल हुए हैं।

border

यह सूचना राज्यसभा में लिखित रूप से दी गई। सूचना में गृहराज्य मंत्री हंसराज गंगाराम अहिर ने कहा कि 105 आतंकी इस साल सितंबर तक पाकिस्तान से भारतीय सीमा के प्रवेश कर चुके हैं। साथ ही उन्होंने यह भी जानकारी दी कि 200 आतंकी इस समय जम्मू कश्मीर में एक्टिव हैं।

भारत ने खतरनाक हथियारों से किया पाक की 15 पोस्ट पर हमला, जवान के शव से बर्बरता का लिया बदला

अहिर ने बताया कि सीमा को मजबूत करने के लिए उन्होंने बहु आयामी दृष्टिकोण और बहुस्तरीय तैनाती पर फोकस किया है, जहां से भारतीय सीमा में घुसपैठ की घटनाएं सामने आती हैं। साथ ही बॉर्डर फेंसिंग को मजबूत किए जाने पर जोर दिया है।

उन्होंने कहा कि सीमा को मजबूत बनाने के लिए बंकर बनाए जाएंगे और नालों पर ब्रिज बनाए जाएंगे। साथ ही, सुरक्षा बलों को अपडेटेड तकनीक के हथियार और उपकरण दिए जाएंगे। सीमा पर फ्लडलाइट भी लगाई जाएंगी और घुसपैठ पर लगातार नजर रखी जाएगी।

हरिद्वार में धमाका करने की योजना बनाने वाले ने हमले से पहले की थी रेकी

हाईटेक होगी सीमा

एक अन्य सवाल का जवाब देते हुए गृह राज्य मंत्री किरन रिजिजु ने कहा कि सरकार ने सीमा पर आधुनिक उपकरण लगाने का फैसला किया है, जो घुसपैठ को रोकने में मददगार साबित होंगे।

रिजिजु ने कहा कि इसके तहत कम्प्रिहेंसिव इंटिग्रेटेड बॉर्डर मैनेजमेंट सिस्टम (सीआईबीएएस) को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर मंजूरी मिल चुकी है। यह प्रोजेक्ट भारत-पाकिस्तान और भारत-बांग्लादेश सीमा पर शुरू किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि इसके लिए पर्याप्त पैसों का भी इंतजाम हो चुका है।

भारत ने पाकिस्तान को दी चेतावनी, नहीं माने तो भुगतोगे परिणाम

रिजिजु ने कहा कि यह मुख्य तौर पर सेना के जवानों, सेंसर नेटवर्क, इंटेलिजेंस और कमांड, कंट्रोल सॉल्यूशन और इलेक्ट्रो ऑप्टिक सेंसर (दिन और रात में काम करने वाले हाई रिजॉल्यूशन कैमरे), रडार और अन्य डिवाइसों का एक सिस्टम है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
200 terrorists are active in jammu kashmir
Please Wait while comments are loading...