कश्‍मीर उपचुनावों में 140 आतंकवादी वोटर्स की हत्‍या करने को थे तैयार!

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्‍ली। नौ अप्रैल को कश्‍मीर में जो उप-चुनाव हुए उनमें सिर्फ आठ प्रतिशत वोटिंग दर्ज हो सकती है। इन चुनावों में नेशनल कांफ्रेंस के फारूक अब्‍दुल्‍ला को जीत हासिल हुई है। मिलिट्री इंटेलीजेंस की एक रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि पाकिस्‍तान ने श्रीनगर में हुए इन चुनावों में हिंसा में एक बड़ा रोल अदा किया था। सबसे ज्‍यादा हैरानी की बात है कि आईएसआई ने 140 आतंकवादियों को स्‍टैंड बाई रखा था।

कश्‍मीर उपचुनावों में 140 आतंकवादी वोटर्स की हत्‍या करने को थे तैयार!

गृह मंत्रालय ने दी चेतावनी

रिपोर्ट के मुताबिक आईएसआई ने मतदाताओं को वोटिंग करने से रोकने के लिए 140 आतंकवादियों को स्‍टैंडबाई रखा था। इन आतंकियों पर जिम्‍मेदारी थी कि अगर बड़ी संख्‍या में लोग वोट डालने निकलें तो उनकी हत्‍या कर दी जाए। यह प्‍लान करीब एक माह तक आईएसआई की लिस्‍ट में था और गृह मंत्रालय की ओर से चुनाव आयोग को चेताया भी गया था। इसके बावजूद चुनाव कराए गए। पाकिस्‍तान की योजना अगर अप्रत्‍यक्ष तौर से देखा जाए तो सफल भी रही क्‍योंकि इन चुनावों में सिर्फ आठ प्रतिशत वोटिंग ही हुई है। आईबी को चुनावों में तबाही का अंदेशा उस समय हुआ था जब उसे एक आतंकवादी और इसके हैंडलर के बीच बातचीत का पता लगा था। आईबी का कहना है कि यह बात एकदम साफ है कि चुनावों में बाधा पैदा करनी थी। हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर जाकिर राशिद भट्ट को भी इस प्‍लान के बारे में जानकारी दे दी गई थी। भट्ट ने एक वीडियो मैसेज जारी किया और उसने लोगों को चेतावनी दी कि वह वोट न दें।

आतंकवादियों की मदद कर रहे थे अलगाववादी

आईबी अधिकारियों की मानें तो पाकिस्‍तान और भारत के कम से कम 140 आतंकवादी इन उपचुनावों को असफल करने के लिए तैयार थे। उनका इरादा था कि अगर ज्‍यादा लोग वोट डालने के लिए बाहर निकलेंगे तो फिर वे उन पर बड़े हमले करने को रेडी रहेंगे। इन आतंकवादियों की मदद कश्‍मीर के अलगाववादी नेता कर रहे थे जिन्‍होंने इन उपचुनावों की असफलता सुनिश्चित कर डाली थी। उन्‍होंने पुलवामा जिले में पीडीपी के वर्कर्स को पीटा था और यह उनकी मतदाताओं को दी गई एक चेतावनी थी। आपको बता दें कि पीडीपी के नेता को भारत विरोधी नारे लगाने के लिए मजबूर किया गया था और बाद में इसका वीडिया सोशल मीडिया पर जमकर शेयर किया गया।

देश-दुनिया की तबरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
ISI had ensured that 140 terrorists were kept on stand-by to disrupt the Kashmir elections.
Please Wait while comments are loading...