TATA के नए चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन के बारे में ये 10 बातें नहीं जानते होंगे आप

Subscribe to Oneindia Hindi

नई दिल्ली। नटराजन चंद्रशेखरन अब टाटा सन्स के नए चेयरमैन हैं। बता दें कि बतौर चेयरमैन साइरस मिस्त्री की तीन माह के बर्खास्तगी के तीन माह के भीतर यह नाम सामने आया है। यहां यह बात भी दीगर है कि चंद्रशेखर पहले ऐसे गैर पारसी हैं जिन्हें टाटा सन्स का चेयरमैन बनाया गया है। तो आइए आपको चंद्रशेखर के बार में वो दस बातें जो आप नहीं जानते होंगे। 

46 साल में बने CEO

46 साल में बने CEO

1963 में जन्में चंद्रशेखरन, पत्नी ललिता और बेटे प्रणब के साथ मुंबई में रहते हैं। इससे पहले चंद्रशेखरन टाटा ग्रुप के क्राउन ज्वेल की अगुवाई कर रहे हैं। 2009 में वो टाटा कन्सलटेंसी सर्विसेज से जुड़े। 46 साल की उम्र में वो टाटा ग्रुप के सीईओ बने।

नारायण मूर्थि ने भी सराहा

नारायण मूर्थि ने भी सराहा

बतौर चेयरमैन चंद्रेशखर की नियुक्ति को इन्फोसिस के को-फाउंडर एन आर नारायण मूर्थि ने भी सराहा है। उन्होंने कहा कि चंद्रशेखरन हमेशा से लोगों के साथ सीखते रहे हैं। वो हमेशा लोगों के साथ रहे हैं। कहा कि मुझे इस बात पर कोई शक नहीं है कि पूरा उद्योग इस बात का जश्न नहीं मना रहा होगा। मूर्थि ने चंद्रशेखरन की नियुक्ति को बहुत बढ़िया पसंद बताया है।

बढ़ गया TCS का रेवेन्यू

बढ़ गया TCS का रेवेन्यू

चंद्रशेखरन ने कोयंबटूर इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से अप्लाइड साइंस में बैचलर डिग्री और कंप्यूटर एप्लिकेशन में मास्टर की डिग्री त्रिची के एक संस्थान से ली। उन्हें कई विश्वविद्यालयों से मानद स्वरूप डिग्री और डॉक्ट्रेट मिला है। 1987 में TCS ज्वाइन करने वाले चंद्रेशेखर के कुल समय में इसका रेवेन्यू ग्रोथ 1,12,257 करोड़ रुपए से ज्यादा का हो गया। इसमें 3,71,000 कंसलटेंट शामिल थे। साथ ही मार्केट कैपिटल 4,76,435 करोड़ रुपए से ज्यादा की हो गई।

जब TCS के चेयरमैन थे चंद्रशेखरन

जब TCS के चेयरमैन थे चंद्रशेखरन

जानकारी के मुताबिक जब चंद्रशेखरन TCS के सीईओ थे, उस दौरान लाभ 7,093 करोड़ से बढ़कर 24,375 करोड़ रुपए हो गया। बीते साल साइरस के हटाए जाने के बाद बीते साल 25 अक्टूबर को टाटा सन्स के बोर्ड मेंबर बने। चंद्रशेखरन 2012-2013 के बीचे नेशनल एसोसिएशन ऑफ सॉफ्टवेयर एंड सर्विसेज कंपनीज के चेयरमैन भी रहे।

फोटोग्राफी का है शौक

फोटोग्राफी का है शौक

चंद्रशेखरन, भारत सरकार की ओर से गठित कई टास्क फोर्सेज के सदस्य भी रहे हैं। चंद्रशेखरन को फोटोग्राफी के साथ-साथ लंबी दूरी की दौड़ लगाना पसंद है। वो कई शहरों में संपन्न हुए मैराथनों में हिस्सा ले चुके हैं।

ये भी पढ़ें: बीएसएफ के जवान तेज बहादुर ने आखिर क्यों उठाई सिस्टम के खिलाफ आवाज, ये है बड़ी वजह

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
10 important facts about N Chandrasekaran, New Ceo of Tata Sons
Please Wait while comments are loading...