कोटखाई: 'हिमाचल देवभूमि नहीं, ड्रग्स भूमि से अपराध भूमि बन गया'

Subscribe to Oneindia Hindi

शिमला। हिमाचल प्रदेश के जिला शिमला के कोटखाई में स्कूली छात्रा से गैंगरेप व मर्डर के मामले पर नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल ने कांग्रेस सरकार पर हमला बोलते हुये कहा कि सरकार को जनता के दबाव के आगे मजबूर होकर सीबीआई से जांच कराने का फैसला लेना पड़ा है इससे सरकार की किरकिरी हुई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में जबसे कांग्रेस सत्तासीन हुई है तबसे ही कानून व्यवस्था बद से बदतर होती जा रही है।

Read Also: कोटखाई केस सीबीआई के हवाले, माहौल बिगड़ता देख झुकी वीरभद्र सरकार

कोटखाई की घटना को लेकर सरकार की खिंचाई

कोटखाई की घटना को लेकर सरकार की खिंचाई

धूमल ने यहां प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि राज्य में समाज विरोधी तत्वों का बोलबाला है। ऐसे तत्वों में कोई भय नहीं है और इसका नवीनतम उदाहरण कोटखाई की घटना का है। उन्होंने कहा कि कोटखाई की पीड़िता के मामले की जांच सीबीआई से कराने की सरकार की घोषणा का वे स्वागत करते हैं। धूमल ने कहा कि राज्य में वन माफिया वन काट गया, खनन माफिया रेत बजरी का अवैध व्यापार कर गया। मौत के सौदागर जान-माल के साथ इज्जत भी ले गए। ऐसे में सारे स्टेट की हर घटना की जांच यदि सीबीआई को ही करनी है तो राज्य में सरकार को रहने का अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि वे सीएम द्वारा कोटखाई के मामले की सीबीआई जांच करवाने का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि जहां स्थानीय प्रशासन, राज्य प्रशासन और पुलिस दबाव में कार्य कर रही है, वहां क्या हो सकता है, इसे खुद समझा जा सकता है।

गैंगरेप के बाद मुश्किल में वीरभद्र सरकार

गैंगरेप के बाद मुश्किल में वीरभद्र सरकार

धूमल ने कहा कि पहले कोटखाई की पीड़िता का शव नहीं मिलता है और जब शव मिलता है तो उसकी जांच को लटकाया जाता है। उन्होंने कहा कि पीड़िता के माता पिता ने भी इस मामले में सीबीआई से जांच करवाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि वे भी इस मांग का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में नेपाल और गढ़वाल के लोगों के नाम आए हैं। नेपाल के लोगों के बारे में सब जानते हैं कि वे अपराध करते हैं तो तुरंत ही फरार हो जाते हैं। अनेकों ऐसे मामले हैं और छबील दास मर्डर केस का मामला सामने है और कुल्लू मंदिर चोरी का मामला है। ऐसे में हत्यारे यहां पर तो घूमेंगे नहीं। उनका कहना था कि लोग इस बात पर विश्वास नहीं कर रहे हैं और सबने शंका जाहिर की है। उन्होंने कहा कि लोगों के दबाव में मजबूर होकर सीएम को इस मामले की जांच सीबीआई से कराने को कहना पड़ा है।

कोटखाई घटना पर शुरू हुई प्रदेश में राजनीति

कोटखाई घटना पर शुरू हुई प्रदेश में राजनीति

धूमल ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहद खराब है और यह देवभूमि से ड्रग्स की भूमि बनी और अब अपराध की भूमि बन रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कई ऐसे मामले हुए हैं। कुल्लू में 8 वर्ष की बच्ची की रेप के बाद हत्या होती है। वन रक्षक होशियार का मामला सामने है। कहा जा रहा है कि इसने जहर खाकर आत्महत्या की। वह जहर खाकर पेड़ पर चढ़ गया। इसके लिए भी सीबीआई जांच की मांग हो रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में कई ऐसी घटनाएं घटी हैं। चाहे वह बारूद पकड़े जाने की हो या फिर हथियार पकड़े जाने की हो। इसके अलावा सुबाथू में आतंकियों के पोस्टर लगे है और बंजार में आईएसआईएस का आतंकी पकड़ा गया।

Read Also: कोटखाई गैंगरेप: नाराज लोगों का भारी बवाल, थाने पर पथराव, वाहनों को तोड़ा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
BJP leades Prem Kumar Dhoomal statement on Kotkhai Gang Rape.
Please Wait while comments are loading...