हिसार: जातिगत टिप्पणी के बाद हमले में 9 दलित जख्मी, पुलिस के खिलाफ भड़के लोग

Subscribe to Oneindia Hindi

हिसार। हरियाणा के हिसार में जातिगत टिप्पणियों का विरोध करने पर एक समूह के लोगों ने 20 दलितों पर हमला किया, जिनमें से 9 गंभीर रूप से घायल हैं। जातिगत विवाद में सात साल पहले यहां दो लोगों को जिंदा जला दिया गया था जिसके बाद यहां सीआरपीएफ की एक टुकड़ी तैनात की गई थी और बीते महीने उसे हटा लिया गया था। पुलिस ने बताया कि सोमवार रात एक साइकिल शो में दलित युवक के जीतने पर कुछ लोगों ने आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। दलितों ने इसका विरोध किया तो दूसरे समुदाय के लोगों ने उन पर हमला कर दिया।

हिसार: जातिगत टिप्पणी के बाद हमले में 9 दलित जख्मी, पुलिस के खिलाफ भड़के लोग

चौकी इंचार्ज का तबादला
हिसार के मिर्चपुर गांव की घटना में बड़ी संख्या में दलित पुलिस चौकी पर जमा हुए। लोगों ने इस दौरान जमकर नारेबाजी की। सूचना मिलने पर एसपी राजेंद्र कुमार मीणा और डीसीपी निखिल गजराज दूसरे अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे और स्थानीय लोगों से मुलाकात की। फिलहाल हालात काबू में हैं और अतिरिक्त पुलिस बल को गांव में तैनात कर दिया गया है। एसपी ने कार्रवाई करते हुए मिर्चपुर चौकी के इंचार्ज का तबादला कर दिया है। READ ALSO: 130 बीवियां रखने वाले 93 साल के मुस्लिम धर्मगुरु की मौत

घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया
घटना में घायल हुए एक शख्स को अगरोहा मेडिकल कॉलेज भेजा गया है जबकि पांच अन्य को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने बताया कि घटना को लेकर आईपीसी की धारा 148 (दंगे भड़काना), 149 (गैरकानूनी रूप से जमा होकर वारदात को अंजाम देना), 323 (चोट पहुंचाना), 324 (खतरनाक हथियारों से चोट पहुंचाना) और एससी/एसटी एक्ट के तहत 15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। गांव में लंबे समय से सीआरपीएफ तैनात की गई थी जिसे बीते महीने ही हटा लिया गया था। READ ALSO: भारतीय मूल की महिला ने 2 करोड़ का घर महज 170 रुपये में बेचा

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
9 dalits injured in hisar after attacked by a group of villagers.
Please Wait while comments are loading...