महिला ने रेप के 9 साल बाद लिखी प्रेमी को चिट्ठी तो जवाब पढ़कर रह गई हैरान, 16 साल बाद हुई मुलाकात

Subscribe to Oneindia Hindi

रेक्जाविक। रेप के 9 साल बाद एक महिला ने अपने आरोपी पूर्व प्रेमी को चिट्ठी लिखकर अपने मन की भड़ास निकाली। उसे उम्मीद नहीं थी कि जवाब आएगा लेकिन पत्र का जवाब आया। एक दूसरे को चिट्ठियां लिखने के बाद वे दोनों मिले और साथ में मिलकर उन्होंने एक किताब भी लिखी। किताब रेप और उसके ट्रामा पर आधारित है। घटना आइसलैंड की है। थॉर्डिस एल्वा नाम की महिला से 9 साल पहले उसे पूर्व प्रेमी टॉम स्ट्रैंजर ने रेप किया था। टेड टॉक में हुई उनकी बातचीत सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है।

'वह कोई शिकारी नहीं, मेरा प्रेमी था'

'वह कोई शिकारी नहीं, मेरा प्रेमी था'

एक एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत टॉम 1996 में ऑस्ट्रेलिया से आइसलैंड गया जहां उसकी मुलाकात एल्वा से हुई। दोनों को बीच प्यार हुआ। उस वक्त एल्वा 16 साल की थी जबकि टॉम 18 साल का था। स्कूल में डांस प्रोग्राम के बाद अचानक बात बिगड़ी और बहुत कुछ घट गया। जब तक एल्वा यह समझ पाती कि उसके साथ रेप हुआ है, टॉम ऑस्ट्रेलिया वापस लौट गया। एल्वा ने कहा, 'कई दिनों तक चुपचाप रहने और हफ्तों रोने के बावजूद मेरे दिमाग रेप को लेकर वह विचार नहीं आया जो टीवी में देखकर आता था। टॉम कोई शिकारी नहीं था। वह मेरा बॉयफ्रेंड था। जो कुछ भी हुआ था वह कहीं और नहीं मेरे ही बेड पर हुआ था।' एल्वा ने रेप के लिए खुद को ही जिम्मेदार ठहराया। READ ALSO: जिसे बेटी की तरह पाला महीनों तक उसी से किया रेप, हुई गर्भवती

'बचपन से बताया जाता है- रेप के पीछे वजह होती है'

'बचपन से बताया जाता है- रेप के पीछे वजह होती है'

थॉर्डिस एल्वा ने कहा, 'मैं ऐसे संसार में पली-बढ़ी हूं जहां यह कहा जाता है लड़कियों का रेप किसी न किसी वजह से होता है। उनकी स्कर्ट छोटी थी, वह ज्यादा हंसती हैं, उसने शराब पी रखी थी। मैं इन सब चीजों के लिए दुखी थी इसलिए खुद शर्मसार थी। सालों बाद मुझे महसूस हुआ कि उस रात सिर्फ एक ही चीज थी जो मेरा रेप होने से रोक सकती थी। यह न तो मेरी स्कर्ट थी न ही स्माइल और न ही मेरा बचपना। जो चीज जो मेरा रेप होने से रोक सकती थी वो खुद वह शख्स था जिसने रेप किया। क्या उसने खुद को रोका।' READ ALSO: IIT गुवाहाटी के हॉस्टल में तीन लड़कियों को ड्रग्स देकर दो छात्रों ने किया यौन उत्पीड़न

घटना के 16 साल बाद दोनों मिले

घटना के 16 साल बाद दोनों मिले

टॉम स्ट्रैंजर ने कहा कि उस वक्त रेप जैसा शब्द उसके दिमाग में था भी नहीं। उसने कहा, 'मुझे कहीं से भी नहीं लगा कि यह रेप था। यह उस तरह का इनकार नहीं था जिसमें जबरदस्ती जैसा कुछ फील हो। इस घटना के बाद मैंने पूरे घटनाक्रम को सारे वक्त सोचा और पाया कि यह सेक्स था रेप नहीं। यह झूठ है कि मुझे इसके लिए तब किसी तरह का खेद हुआ हो। लेकिन बाद में मुझे इसका अहसास हुआ।' टॉम ने अपनी भावनाओं को खामोशी से तब तक छुपाए रखा जब उसे एल्वा की ओर से एक पत्र मिला। उन्होंने एक दूसरे को चिट्ठियां लिखीं और एक दूसरे से चीजें बांटने की कोशिश कीं लेकिन एल्वा को चैन नहीं मिला। एल्वा ने कहा, 'आठ सालों तक लगातार चिट्ठियां लिखने और उस घटना के 16 साल होने पर मुझे अहसास हुआ कि इसे सामने से फेस करने से ही मुश्किल हल हो सकती है।' READ ALSO: सो रही युवती से दो बार रेप और हत्या के बाद लाश से की दरिंदगी

बातचीत से दूर हुईं गलतफहमी

बातचीत से दूर हुईं गलतफहमी

दोनों की मुलाकात केपटाउन में हुई। दोनों ने एक सप्ताह का वक्त साथ गुजारा। एक दूसरे के बारे में बात करते हुए। टॉम ने बताया, 'हमारे बीच काफी मतभेद थे वो सामने आए, हमारे अनुभव। हमने उस घटना पर आमने-सामने रहकर बात की। अगली बार बात करते वक्त हमें लगा कि काफी कुछ क्लियर हुआ जो अचानक से एक हंसी में तब्दील होने जैसा भी था।' बातचीत के दौरान दोनों ने कहा कि एक बार किसी से रेप होने की बात सामने आने पर उसकी इज्जत पर सवाल उठते हैं। उसे हमेशा यह महसूस कराया जाता है। ठीक ऐसे ही जब किसी पर रेपिस्ट होने का टैग लग जाता है तो उसे शैतान घोषित करना आसान है। हम उन लोगों के अंदर की मानवता को देखना बंद कर देते हैं जिन्होंने अनजाने में ऐसा किया होगा। READ ALSO: यूपी चुनाव: टिकट पाने के लिए चार दिन में बदलीं तीन पार्टियां

'यौन हिंसा सिर्फ महिलाओं का मुद्दा नहीं'

'यौन हिंसा सिर्फ महिलाओं का मुद्दा नहीं'

एल्वा और टॉम ने अपनी किताब में लिखा कि यौन हिंसा को सिर्फ महिला का मुद्दा समझना बंद किया जाए। उन्होंने कहा, 'महिलाओं और पुरुषों के खिलाफ होने वाली यौन हिंसा के ज्यादातर मामले पुरुषों की ओर से होते हैं। लेकिन इस बारे में बातचीत के वक्त उनकी आवाज नहीं उठती।'

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Woman writes letter to her boyfriend year after rape and trauma.
Please Wait while comments are loading...